यमन विस्फोट में 137 की मौत

सना | समाचार डेस्क: इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने शुक्रवार को यमन की राजधानी सना में कहर बरपाया है. उनके द्वारा किये गये चार अलग-अलग धमाकों में 137 लोगों की मौत हो गई तथा 100 से ज्यादा घायल हो गये हैं. घायलों में कई गंभीर रूप से घायल बताये जा रहें हैं. यमन की राजधानी सना और सादा प्रांत में शुक्रवार को तीन बम विस्फोटों में 137 लोगों की मौत हो गई, और कम से कम 100 लोग घायल हो गए. सुन्नी चरमपंथी गुट इस्लामिक स्टेट ने हमले की जिम्मेदारी ली है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यमन की राजधानी सना में जुमे की नमाज के दौरान चार आत्मघाती हमलावरों ने शिया हौती मुख्यालय को निशाना बनाकर दो मस्जिदों पर हमला कर दिया. वहीं शिया हौती के गढ़ सादा प्रांत में एक सरकारी इमारत और एक मस्जिद में भी हमले हुए जिनमें 33 अन्य लोगों की मौत हो गई.

हौती चालित अल मसेरा टीवी के मुताबिक इन हमलों में 137 लोगों की मौत हो गई और 350 घायल हो गए.

एक अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि सना में शिया हौती समूह नियंत्रण वाली दो मस्जिदों पर हमलावरों ने विस्फोट कर दिया. उन्होंने यह भी बताया कि इन विस्फोटों में मारे गए लोगों में से ज्यादातर हौती समूह के समर्थक थे.

पहला हमला दक्षिणपूर्व सना के बद्र इलाके में स्थित एक मस्जिद में हुआ जबकि दूसरा विस्फोट शहर के पूर्वोत्तर इलाके में स्थित हाशौश मस्जिद में हुआ, जिसमें तकरीबन 119 लोगों की जान चली गई.

सना में इस साल का यह दूसरा बम विस्फोट है. इससे पहले सात जनवरी को अल कायदा ने एक पुलिस अकादमी के बाहर कार में विस्फोट किया था, जिसमें 50 सैन्य छात्रों की मौत हो गई थी.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने एक हौती सूत्र के हवाले से बताया कि यमन के उत्तरी प्रांत सादा की राजधानी सादा शहर में शुक्रवार को दोपहर के समय एक सरकारी इमारत में हुए बम विस्फोट में 15 हौती लड़ाकों की मौत हो गई.

उन्होंने बताया, कि इसी बीच जुमे की नवाज के दौरान सादा शहर में एक मस्जिद में आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया, जिसमें 18 लोगों की मौत हो गई. मारे गए लोगों में ज्यादातर हौती समर्थक थे.

सूत्र ने बताया कि इन दोनों हमलों में दर्जनों लोग घायल हुए हैं.

शिया हौती समूह ने पिछले साल सितंबर में सना शहर को अपने कब्जे में ले लिया था और इसे मध्य और दक्षिणी क्षेत्रों में सुन्नी जनजातियों और सुन्नी बहुल अलकायदा नेटवर्क का काफी विरोध झेलना पड़ा था.

दक्षिण तटीय शहर आदेन में हौती समूह द्वारा समर्थित कबायली नागरिक सेना ने गुरुवार को सुरक्षा बलों के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी, जिसमें 15 लोगों की मौत हो गई थी. आदेन यमन का दूसरा सबसे बड़ा शहर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *