isis से संदिग्ध संबंध, 14 हिरासत में

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने इस्लामिक स्टेट के साथ संदिग्ध संबंधों के लिए देश भर से चौदह लोगों को हिरासत में लिया है. जिनमें से छः कर्नाटक से हैं. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “देश के विभिन्न हिस्सों से जिन 14 लोगों को हिरासत में लिया गया है, उनमें से पांच को औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया गया है.”

गिरफ्तार संदिग्धों की उम्र 25 से 30 साल है. अधिकारी ने बताया कि अन्य नौ संदिग्धों की जांच जारी है.

मंत्रालय के अधिकारी ने कहा, “अभी ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है कि वे गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश रच रहे थे.”

000कर्नाटक से 6 गिरफ्तार
छह लोगों को कुख्यात आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट से उनकी कथित संलिप्तता के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. गृहमंत्री जी. परमेश्वर ने शुक्रवार को कहा कि इनमें से चार को बेंगलुरू और दो को कर्नाटक से गिरफ्तार किया गया. गृहमंत्री ने यहां एक कार्यक्रम में संवाददाताओं को बताया, “चार संदिग्धों को बेंगलुरू और बाकी दो को मैंगलोर व तुमकुर से गिरफ्तार किया गया.”

बेंगलुरू से गिरफ्तार किए गए संदिग्धों की पहचान आसिफ, अफजल, सईद व अहाद के रूप में हुई है.

संदिग्ध नजमुल हुदा को मैंगलूर शहर के बाजपे उपनगर से गिरफ्तार किया गया. उस पर युवकों को आईएस में शामिल होने के लिए उकसाने का भी आरोप है. वह बेंगलुरू के एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ता था. उसने पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी.

वहीं, सईद मुजाहिद हुसैन(25) को कर्नाटक के तुमकुर शहर से गिरफ्तार किया गया.

मैंगलोर व तुमकुर बेंगलुरू से क्रमश: 350 व 70 किलोमीटर दूर हैं.

गृहमंत्री परमेश्वर ने कहा, “राष्ट्रीय जांच एजेंसी संदिग्धों से उनकी भूमिका व संलिप्तता के बारे में पूछताछ कर रही है.”

यह गिरफ्तारी एनआईए द्वारा शहर में एक किराये के मकान और संदिग्धों के ठिकानों पर छापामारी के बाद की गई है.

सुबह में कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश ने कहा कि संदिग्धों की गिरफ्तारी करने वाली केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकवाद निरोधक दस्ते को सूचित नहीं किया था और न इससे मदद ही मांगी थी.

प्रकाश ने कहा, “केंद्रीय एजेंसियों के पास देश में किसी भी संदिग्ध को गिरफ्तार करने की न्यायिक शक्ति है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *