अफगानी खदान में 27 मरे, 12 फंसे

काबुल। एजेंसी: उत्तर अफगानिस्तान के समंगन प्रांत के कोयला खदान में हुए हादसे में 27 खनिकों की मौत हो गई तथा अभी भी 12 फंसे हुए हैं. इन 12 फंसे हुए खनिकों को निकालने की कोशिश जारी है. समंगन के उप सुरक्षा प्रमुख मौसादिकुल्लाह मुज्जफरी ने बताया कि बचाकर निकाले गए खनिकों में से चार की हालत काफी नाजुक है.

समंगन प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता मोहम्मद सादिक अजीजी ने बताया,‘‘ रुई देउ आब जिले में अबखोराक कोयला खदान में एक भूमिगत खदान में काम कर रहे 27 खनिक मारे गए हैं.’’ 20 लोगों के घायल होने की जानकारी देते हुए अजीजी ने कहा, ‘‘ ये लोग कोयला खदान में काम कर रहे थे कि उसी समय खदान का हिस्सा ढह गया. आगे की जांच के लिए हम घटनास्थल पर जा रहे हैं.’’ प्रांत के उप सुरक्षा प्रमुख मोसादीकुल्लाह मुजाफरी ने बताया कि चार बचावकर्मी बुरी तरह घायल हुए हैं और करीब 12 खनिक अभी भी नीचे फंसे हैं.


ज्ञात्वय रहे कि अफगान सरकार भविष्य के आय के साधनों के रुप में खदानों के वाणिज्यिक इस्तेमाल पर भरोसा करके चल रही है और इस उद्योग के नियमन के जल्द ही एक नया खनन कानून बनने जा रहा है. लेकिन विभिन्न मंत्रालयों के बीच प्रतिस्पर्धा के कारण संबंधित विधेयक संसद में अटका पड़ा है.

गौर तलब है कि अस्सी के दशक में सोवियत संघ के कब्जे में रहे अफगानिस्तान का अमेरिका ने 2006 में हवाई खनन सर्वेक्षण कराया था और पाया था कि देश में एक खरब अमेरिकी डालर मूल्य की खनिज संपदा है. उसके पश्चात से ही अफगानिस्तान में खदानों में सुरक्षा पहलुओं की परवाह किये बगैर ही खनन का कार्य जारी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!