बिल्डिंग में दब कर 34 की मौत

ठाणे | संवाददाता: ठाणे में एक सात मंजिला इमारत के गिरने से मरने वालों की संख्या 34 पहुंच गई है. गुरुवार की शाम मुंब्रा के पास शीलफाटा इलाके में यह हादसा हुआ, जहां लकी कंपाउंड इलाके की इमारत भरभराकर ढह गई. शुक्रवार की सुबह तक इस इमारत के मलबे से 34 लोगों की लाशें निकाली जा चुकी हैं. वहीं करीब 50 लोगों को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती किया गया है.

इलाके के डिप्टी कलेक्टर मनोज गोहाद के मुताबिक यह इमारत गैरकानूनी थी. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि इमारत को मलबे में तब्दील होने में सिर्फ तीन से चार सेकेंड का वक्त लगा. इमारत में रहने वाले ज्यादातर लोग मजदूर थे, जो वहीं काम करते थे. इमारत की पांच मंजिलों तक लोग रहते थे, जबकि छठी और सातवीं मंजिल अभी बन रही थी. इमारत को बनाने वाला बिल्डर सलील और खलील के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है. वे दोनों अभी फरार बताये जाते हैं. घायलों में कुछ लोगों को ठाणे के विभिन्न अस्पतालों में और कुछ को मुंबई के जेजे और सिओन अस्पतालों में भर्ती कराया गया है

इस इमारत मे लोगों की मौत के बाद मुंबई महानगरपालिका के पर भी सवाल खड़े होने लगे हैं. लोगों का कहना है कि जब बिल्डिंग बननी शुरु हुई तो मनपा के लोगों ने इसे रोकने की कोशिश क्यों नहीं की ? राजनीतिक दलों का आरोप है कि सरकार के संरक्षण में बिल्डर माफिया लगातार मजबूत होते जा रहा है और सरकार लोगों की जान से खेल रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *