बोको हराम की कैद में 500 बच्चे

अबुजा | समाचार डेस्क: नाइजीरिया के शहर दामास्क के 500 बच्चों को बोको हराम ने अगवाकर करके अपनी कैद में रखा हुआ है. अगवा किए गए बच्चों की उम्र 11 साल और उससे कम है. नाइजीरिया का यह शहर पहले बोको हराम के कब्जे में था. लेकिन नाइजर और चाड के सैनिकों ने मार्च की शुरुआत में इस शहर को उसके कब्जे से वापस ले लिया था.

बीबीसी ने एक दामास्क के एक पूर्व निवासी के हवाले से बताया कि अगवा किए गए बच्चों की उम्र 11 साल और उससे कम है.

बीबीसी की रपट के मुताबिक उत्तरी बोर्नो राज्य का प्रतिनिधित्व करने वाले सीनेटर मैना माजी लवान ने कहा, “दामास्क का मामला बिल्कुल अलग है, यहां पर कई सौ बच्चे लापता है.”

उन्होंने कहा, “नाबालिगों को उन्होंने मदरसों को दे दिया है और 16 से 25 साल की उम्र के नौजवानों को उन्होंने अपने संगठन में भर्ती कर लिया है और अपने खतरनाक मंसूबों को अंजाम देने के लिए उनका प्रशिक्षण शुरू कर दिया है.”

अप्रैल 2014 में 200 लड़कियों को अगवा करने के मामले में पूरे विश्व में बोको हराम की आलोचना हुई थी. आतंकवादी संगठन ने इन लड़कियों को नाइजीरिया के बोर्नो प्रांत में स्थित चिबोक शहर के एक स्कूल से अगवा किया था.

बीबीसी ने दामास्क के एक व्यापारी मालम अली के हवाले से बताया, “जब उन्होंने शहर पर कब्जा किया था वे बच्चों को मदरसा में रखा करते थे. अगवा किए गए बच्चों में मालम का छोटा भाई भी शामिल है.

बीबीसी के मुताबिक संघर्ष के कारण कई परिवारों को शहर छोड़कर जाना पड़ रहा है. शहर में शासन बदलने के कारण यह पता लगाना नामुमकिन हो गया है कि कितने लोगों की मौत हुई और कितने लोग लापता है.

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह ही दामास्क में एक पुल के नीचे 70 से अधिक लोगों के अवशेष मिले थे. माना जाता है कि यह आम नागिरकों के अवशेष थे जिन्हें आतंकवादियों ने मार दिया था.

बोको हराम ने अभी हाल ही में सार्वजनिक रूप से अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी गुट आईएसआईएस के समर्थन की घोषणा की थी. सन 2009 से बोको हराम की आतंकवादी गतिविधियां जारी हैं. इस दौरान उसने नाइजीरिया के विभिन्न क्षेत्रों में गोलीबारी, बम विस्फोट और हिंसक कार्यवाहियों को अंजाम दिया है जिसमें 13000 से अधिक लोग मारे गए जबकि पंद्रह लाख से अधिक लोग पलायन करने पर विवश हुए हैं.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *