एसिडिटी से दांतों को खतरा

नई दिल्ली | एजेंसी: अम्लीय खाद्य पदार्थो के कारण मुंह में होने वाली एसिडिटी दांतों के लिए बहुत बड़ा खतरा साबित हो सकती है. मुंह को स्वच्छ रखने वाले अग्रणी उत्पाद निर्माता पेप्सोडेंट ने शुक्रवार को एक रिपोर्ट जारी कर कहा कि इससे दांत जड़ से कमजोर हो जाते हैं.

पेप्सोडेंट द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार, “एसिडिटी सिर्फ पेट में नहीं होती. इसकी शुरुआत मुंह से होती है, तथा इसके कारण दांत कमजोर हो जाते हैं. यहां तक कि स्वस्थ आहार भी मुंह में एसिडिटी का कारण बन सकता है, और इसके कारण हानिकारक जीवाणु पनप सकते हैं.”


रिपोर्ट में आगे कहा गया है, “एसिडिटी की तीव्रता अधिक होने पर यह दांतों की ऊपरी परत नष्ट कर सकता है.”

शर्करायुक्त खाद्य, गैसयुक्त पेय और कुछ विशेष फल जहां एसिडिटी बढ़ाते हैं, वहीं केला, आलू, दूध से बने खाद्य और जल का अधिक सेवन एसिडिटी को कम करने में मददगार होते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, “भोजन करने के बाद मुंह में अगले दो घंटों के लिए पीएच स्तर में कमी आ जाती है, और लार बनने वाले एसिड का असर कम करने और पीएच का स्तर बढ़ाने की कोशिश करता है. लेकिन यदि आप शर्करायुक्त खाद्य पदार्थो एवं गैसयुक्त पेय का सेवन लगातार करते रहते हैं तो ऐसी स्थिति में लार अपना काम ठीक से नहीं कर पाता.”

पीएच शरीर में क्षारीय तत्वों के संतुलन को प्रदर्शित करता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!