मीरा के बाद सुमित्रा बनी महिला स्पीकर

नई दिल्ली | संवाददाता: पीएम मोदी के प्रस्ताव पर सुमित्रा महाजन लोकसभा की स्पीकर बनी. उनके नाम का समर्थन भाजपा तथा देश के वरिष्ठ सांसद लालकृष्ण आडवाणी ने किया. 15वीं लोकसभा में कांग्रेस से सांसद मीरा कुमार देश की पहली महिला लोकसभा स्पीकर बनी थी. इसके बाद इस बार के 16वीं लोकसभा में भी एक महिला सांसद को लोकसभा का अध्यक्ष सर्वसम्मति से निर्वाचित किया है. इस प्रकार से सुमित्रा महाजन को देश के दूसरी महिला लोकसभा स्पीकर बनने का गौरव हासिल हुआ है.

गौरतलब है कि विदेशों में कई देशों में महिला स्पीकर, महिला प्रधानमंत्री तथा महिला राष्ट्रपति रहें हैं. भारत में भी इंदिरा गांधी ने देश के महिला प्रधानमंत्री होने का गौरव प्राप्त किया था. उसी प्रकार से प्रतिभा पाटिल देश की प्रथम महिला राष्ट्रपति बनी थी. इसी प्रकार से मीरा कुमार देश की पहली महिला स्पीकर बनी थी. गौर करने लायक बात यह है कि इन तीनों के बाद इन पदों पर दूसरी बार निर्वाचित होने का मौका सुमित्रा महाजन को ही मिला है. इस तरह से संसद को लगातार दो बार महिला स्पीकर मिला है.


नवनिर्वाचित सांसदों के शपथ ग्रहण करने के बाद अस्थाई अध्यक्ष कमलनाथ ने नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया शुरू की. कमलनाथ ने कहा कि उन्हें अध्यक्ष के चुनाव को लेकर 19 नोटस मिले हैं. प्रधानमंत्री ने इसके बाद सुमित्रा के नाम का प्रस्ताव रखा. सुमित्रा के चुनाव के बाद मोदी ने कहा कि अध्यक्ष का चुनाव संसद की शीर्ष परंपराओं के अनुसार हुआ है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, “यह गर्व की बात है कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र में एक महिला लोकसभा अध्यक्ष हैं. आपका मार्गदर्शन अमूल्य है.”

सुमित्रा महाजन

सुमित्रा महाजन लगातार आठवीं बार मध्य प्रदेश के इंदौर से सांसद चुन कर आई हैं. इस बार के लोकसभा चुनाव में वह 4 लाख 66 हजार से ज्यादा वोटों से विजयी रही थीं. सुमित्रा महाजन के स्पीकर चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विपक्ष के नेताओं ने उनका स्वागत किया. गौरतलब है कि एमए एलएलबी शिक्षा प्राप्त महाजन ने 2002 से 2004 के बीच एनडीए सरकार के दौरान मानव संसाधन, तेल और संचार राज्यमंत्री का पदभार भी संभाला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!