सौंदर्य और सुंदर मन का संगम, ऐश्वर्या राय

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: 41 वर्षीय ऐश्वर्या राय सौंदर्य तथा सुंदर मन का अद्वितीय संगम है. अपने स्कूल के दिनों की शर्मीली ऐश ने 1994 में मिस वर्ल्ड की प्रतियोगिता मे अपने उत्तर की बदौलत जीत का ताज पहना था. उनसे पूछा गया था कि मिस वर्ल्ड में कौन सी खूबी होनी चाहिये तो ऐश्वर्या राय का जवाब था उसे दयालु होना चाहिये, उसके मन में दूसरों के लिये करूणा होनी चाहिये तथा वह राष्ट्रीय दायरे तथा रंगभेद से अलग हटकर सोचे. अपने फिल्मों में ऐश्वर्या राय ने जिस खूबी से अभिनय किया उससे उन्हें केवल सौंदर्य की रानी कहने वाले का मुंह बंद हो गया.

ऐश्वर्या राय बच्चन न केवल बेटी आराध्या की मां है वरन् ऐश बच्चन परिवार के बहू की भूमिका भी बखूबी निभा रही है. ऐश्वर्या राय करवां चौथ का व्रत रखती है, होली, दीवाली से लेकर हर पर्वो पर मां, बेटी तथा बहू की जीवंत भूमिका में दिखाई देती है. ऐश्वर्या राय ने फिल्म बंटी और बबली में अपने पति अभिषेक बच्चन तथा श्वसुर अमिताभ बच्चन के साथ कजरारे-कजरारे जैसा सुपर हिट गाने को अंजाम दिया था.


1994 में ऐश्वर्या राय मिस इंडिया बनने से चूक गई थी तथा सुष्मिता सेन के सिर पर मिस इंडिया का ताज पहनाया गया. उसी साल के मिश यूनिवर्स का खिताब सुष्मिता सेन ने जीता तथा ऐश्वर्या राय को मिस वर्ल्ड चुना गया. दोनों ने बालीवुड के फिल्मी दुनिया में एक साथ कदम रखा पर ऐश्वर्या राय ने यहां पर सुष्मिता सेन को पछाड़ दिया. ऐश के नाम से फिल्मी दुनिया में लोकप्रिय ऐशवर्या राय ने उसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा. ऐश्वर्या राय ने मिस वर्ल्ड के प्रतियोगिता के समय दिये गये अपने जवाब को जीवन में उतारा तथा सफल रहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!