छग में AAP के समान सरकार बनेगी- जोगी

रायपुर | संवाददाता: अजीत जोगी ने दावा किया कि छत्तीसगढ़ में दिल्ली के आप के समान सरकार बनायेंगे. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के समय अंतिम लड़ाई रमन सिंह तथा उनके बीच होगी. उनकी पार्टी छत्तीसगढ़ के सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने खुलासा किया कि वे अपने आप को चुनाव प्रचार तक सीमित रखेंगे. अजीत जोगी ने कहा छत्तीसगढ़ की सेवा के लिये कांग्रेस से मुक्त हुआ हूं.

शनिवार को एक टीवी साक्षात्कार में इसका खुलासा करते हुये छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने दावा किया कि केन्द्रीय नेतृत्व के रहते राज्य के लिये काम करना कई बार मुश्किल हो जाता है. उदाहरण के रूप में उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री रमन सिंह ने अपने चुनावी घोषणा-पत्र में कहा था कि किसानों को प्रति क्विंटल 2100 रुपये समर्थन मूल्य तथा 300 रुपये बोनस कुल 2400 रुपये धान का दिया जायेगा. जबकि उनके ही केन्द्र सरकार ने इसके लिये मना कर दिया.

अजीत जोगी ने कहा कि मैं नहीं कहता कि रमन सिंह की किसानों को 2400 रुपये समर्थन मूल्य देने की मंशा नहीं थी परन्तु उनके केन्द्रीय नेतृत्व ने इसके लिये मना कर दिया. इस तरह से वे बंधे हुये हैं. शायद मैं भी होता तो ऐसा ही करना पड़ता.

उन्होंने पोलावरम बांध का उदाहरण देते हुये बताया कि इससे हमारे 40 गांव तथा करीब 40 हजार आदिवासी डूब रहे हैं. सरगुजा में बनने वाले बांध का भी यही हाल है. परन्तु दोनों पार्टियों के केन्द्रीय नेतृत्व इसका समर्थन कर रहें हैं तथा हम इसका विरोध कर रहें हैं.

यदि हम छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ की पार्टी के रूप में इसका विरोध करेंगे तो अंतिम निर्णय हमारा तो होगा. तब हम केन्द्रीय नेतृत्व के निर्णय से बंधे नहीं रहेंगे. इसीलिये मैं कह रहा हूं कि मैं आज़ाद हो गया हूं.

उन्होंने दावा किया कि छत्तीसगढ़ में उनकी सरकार बनने पर यहां के प्राकृतिक संपदा के लूट को रोका जा सकेगा तथा छत्तीसगढ़ की जनता को उनके संपदा से हिस्सा मिल सकेगा. अभी तो यहां की संपदा से कंपनियों की बैलेंसशीट में ही मुनाफा बढ़ रहा है.

उन्होंने साक्षात्कार के दौरान स्वीकार किया कि उन्होंने किसी उपेक्षा के कारण पार्टी नहीं छोड़ी है. जोगी ने बताया कि वे तो कांग्रेस पार्टी की सर्वोच्य संस्था कार्यकारिणी के 1997 से सदस्य रहे हैं. इसके अलावा भी उन्हें कई समितियों में कोई न कोई पद दिया जाता रहा है. उन्होंने उपेक्षा या गलत व्यवहार के कारण पार्टी छोड़ने की बात से इंकार किया कि मैं अपनी मातृभूमि, जन्मभूमि, जिसने मुझे इतना कुछ दिया उसके कर्ज को कुछ हद तक चुकाने के लिये कांग्रेस से आज़ाद हुआ हूं.

उन्होंने कहा अंतिम फैसला रायपुर से होना चाहिये इसके लिये दिल्ली जाने या वाशिंगटन जाने की जरूरत न पड़े.

अपने पार्टी के जीत के प्रति आश्वस्त अजीत जोगी ने कहा कि हमने कोटमी की सभा को सबको नहीं बुलाया था परन्तु लोग गांवों से खुद पहुंचे. इससे जाहिर होता है कि लोग हमें चाहते हैं.

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के समय दो-दो राष्ट्रीय पार्टियों भाजपा तथा कांग्रेस से मुकाबले के सवाल पर उन्होंने कहा जहां धनबल तथा जनबल का मुकाबला होता है वहां जनबल ही जीतता है. जोगी ने दिल्ली विधानसभा का उदाहरण देते हुये बताया कि वहां जनबल वाली आम आदमी पार्टी ने भाजपा तथा कांग्रेस को शिक्कत दी है. कांग्रेस को तो एक भी सीट नहीं मिली तथा भाजपा को केवल 3 सीटें मिली जबकि जनबव वाली पार्टी आप को 70 में से 67 सीटें मिली.

उन्होंने बताया कि देश की अन्य क्षेत्रीय पार्टियों से वे संपर्क में हैं. उन्होंने क्षेत्रीय पार्टियों के प्रभाव के बारें में बताया कि पूरे देश में केवल छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान तथा गुजरात को छोड़कर अन्य राज्यों में क्षेत्रीय पार्टियों का प्रभाव है.

अजीत जोगी ने बताया कि अभी तो क्षेत्रीय पार्टियों के नेता उन्हें शुभकामनायें दे रहें हैं. दो-तीन दिन पहले ही कम्युनिस्ट पार्टी के डी राजा ने उन्हें फोन किया था. सबसे पुरानी जान पहचान है इसलिये फोन करके शुभकामनायें दे रहें हैं.

उन्होंने परिवार के चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि मैं मानता हूं कि दो ही लोगों को चुनाव लड़ना चाहिये. उन्होंने कहा कि मेरे घर से दो विधायक होंगे. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी छत्तीसगढ़ के पूरे 90 विधानसभाओं से चुनाव लड़ेगी. अपने बारें में उन्होंने बताया कि वे चुनाव प्रचार करेंगे.

उन्होंने दावा किया कि छत्तीसगढ़ में अंतिम लड़ाई रमन सिंह तथा अजीत जोगी के बीच होगी.

One thought on “छग में AAP के समान सरकार बनेगी- जोगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *