कांग्रेस से गठबंधन बशर्ते मुलायम पीएम

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: अखिलेश यादव ने मुलायम को पीएम बनाने की शर्त पर कांग्रेस से गठबंधन की बात की है. एक कार्यक्रम में अखिलेश यादव ने अपने पत्ते खोलते हुये कहा कि मुलायम सिंह को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने पर ही कांग्रेस के साथ गठबंधन हो सकता है. उन्होंने ऐसी अवस्था में राहुल गांधी को उप प्रधानमंत्री पद का देने की बात मान ली है. हालांकि, अभी अखिलेश यादव के इस बयान पर कांग्रेस की कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से गठबंधन करने की शर्त लगाई है. उन्होंने कहा कि गठबंधन तभी संभव होगा जब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को प्रधानमंत्री और राहुल गांधी को उप प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित किया जाएगा. हिन्दुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में अखिलेश यादव से कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन की संभावना पर सवाल पूछा गया था.

अखिलेश ने कहा, “राहुल गांधी पुराने दोस्त हैं..अगर वे कहेंगे कि नेताजी (मुलायम सिंह) प्रधानमंत्री होंगे और राहुल गांधी उप प्रधानमंत्री तो मैं अभी तुंरत गठबंधन के लिए ‘हां’ कहूंगा.”


अखिलेश ने बहुजन समाज पार्टी से हाथ मिलाने की संभावना से इनकार किया.

उत्तर प्रदेश में अगले साल चुनाव होने हैं. क्या उत्तर प्रदेश में बिहार जैसे महागठबंधन की संभावना है, यह पूछने पर अखिलेश ने कहा, “हमारी पार्टी ने अच्छा काम किया है. हम अपने काम के साथ चुनाव मैदान में जाएंगे. गठबंधन की कोई जरूरत नहीं है..इस पर टिप्पणी करना अभी जल्दबाजी होगी.”

दादरी के पास एक गांव में गोमांस की अफवाह पर एक मुस्लिम व्यक्ति की हत्या पर अखिलेश ने कहा कि सभी को अधिकार है कि वह जो चाहे खाए.

उनसे पूछा गया कि क्या वह बीफ खाने पर सहमति जता रहे हैं, उन्होंने कहा, “सभी को इस बात की आजादी होनी चाहिए कि वह जो चाहता है, खाए.”

उत्तर प्रदेश में सांप्रदायिक राजनीति के सवाल पर अखिलेश ने कहा, “एक बात साफ है-समाजवादियों को सांप्रदायिक राजनीति से लाभ नहीं होगा.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!