मेयर के खिलाफ मानहानि मामले में मंत्री का बयान

बिलासपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन और स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल ने बिलासपुर की महापौर वाणी राव और कांग्रेसी नेता विवेक वाजपेयी के खिलाफ दायर मानहानि के मामले में मंगलवार को अपना बयान दर्ज कराया. मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ओमप्रकाश चौहान की अदालत में मामले की अगली सुनवाई 6 अगस्त को होगी. हालांकि इस पूरे मामले को अमर अग्रवाल के राजनीतिक हमले के तौर पर देखा जा रहा है. राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि अमर अग्रवाल एक-एक कर के कांग्रेसी नेताओं को किनारे लगाते जा रहे हैं.

गौरतलब है कि स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल ने इन दोनों नेताओं के खिलाफ भ्रामक और चरित्र हनन करने वाले आरोप लगाने संबंधी नोटिस जारी किया था. नोटिस में आरोप लगाया गया था कि नेहरु चौक पर 15 मार्च को कांग्रेस द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में अमर अग्रवाल के खिलाफ भ्रामक दुष्प्रचार किया गया था. अमर अग्रवाल ने इन दोनों नेताओं को 100 करोड़ रुपये देने अथवा 21 दिनों के भीतर सार्वजनिक सभा कर के माफी मांगने को कहा था. लेकिन ऐसा नहीं किये जाने पर अमर अग्रवाल 22 अप्रैल को इस मामले को अदालत में ले आये.


मंगलवार को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ओमप्रकाश चौहान की अदालत में अमर अग्रवाल ने अपना बयान दर्ज कराया, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि 15 मार्च 2013 को नेहरु चौक पर धरना प्रदर्शन कर उनके तथा उनके परिवार के सदस्यों के विरुद्ध झूठे आरोप लगाये गये थे. मस्तूरी विकास खंड के भदौरा जमीन घोटाले में उनकी तथा उनके परिवार की संलिप्ता बताकर मानहानि की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!