अमरीकी नेवी बेस में गोलाबारी, 13 मरे

वॉशिंगटन | एजेंसी: अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन स्थित नेवी यार्ड में हुई गोलीबारी में 12 लोगों की मौत हो गई और 14 अन्य घायल हो गए. इस घटना में हमलावर भी मारा गया. यह घटना पिछले साल दिसंबर महीने में कनेक्टिकट के प्राथमिक स्कूल में हुए जनसंहार के बाद हुई बड़ी घटना है.

अमेरिका की संघीय जांच एजेंसी एफबीआई ने दक्षिण-पूर्व वाशिंगटन स्थित वाशिंगटन नेवी यार्ड में गोलीबारी करने वाले संदिग्ध की पहचान टेक्सास के फोर्ट वर्थ निवासी आरोन एलेक्सिस (34) के रूप में की है. यह घटनास्थल राष्ट्रपति के आधिकारिक निवास व्हाइट हाउस और संसद कैपिटल हिल्स से ज्यादा दूर नहीं है.

अधिकारियों ने बताया कि एलेक्सिस नेवी रिजर्व में कार्यरत था और उसे 2011 में बरखास्त कर दिया गया था. उसे 2004 में सिएटल में हुई गोलीबारी की घटना में गिरफ्तार किया गया था पर उस पर गोलीबारी के आरोप नहीं लगाए गए थे. उसे नेवी यार्ड में दोबारा नियुक्ति पाने के लिए सुरक्षा से संबंधित मंजूरी की आवश्यकता थी.

एफबीआई ने हालांकि, नेवल सी सिस्टम कमांड के मुख्यालय में किसी और बंदूकधारी के होने की संभावना को खारिज कर दिया है. इधर, मेट्रोपॉलिटन पुलिस एक व्यक्ति की तलाश कर रही है ताकि इस घटना में उसकी संलिप्तता की पुष्टि की जा सके.

वाशिंगटन के मेयर विंसेंट ग्रे ने संवाददाताओं से कहा, “हम उसके उद्देश्य के बारे जानना जारी रखेंगे. हमारे पास आतंकवाद की आशंका जताए जाने के कारण नहीं है. लेकिन इसकी आशंका को खारिज भी नहीं किया गया है.”

पुलिस ने एक अन्य संदिग्ध का ब्यौरा दिया है जिसके मुताबिक 40-50 साल की उम्र का अश्वेत नागरिक सेना की वर्दी की तरह कपड़े पहने हुए था.

इस बीच, राष्ट्रपति बराक ओबामा ने गोलीबारी को घटना को कायरतापूर्ण कृत्य करार दिया है. इसके साथ ही उन्होंने यह शपथ ली कि संघीय और स्थानीय सुरक्षा अधिकारी गोलीबारी के जिम्मेदार लोगों की जवाबदेही तय करने के लिए साथ काम करेंगे.

यह टेक्सास के फोर्ट हुड में 2009 में हुई गोलीबारी के बाद सैन्य परिसर में हुआ सबसे भयानक हमला है. यहां गोलीबारी सुबह 8.20 बजे शुरू हुई. दक्षिण-पूर्व वाशिंगटन स्थित नेवी यार्ड में कई गोलियां चलीं. यहां 3,000 सैन्य और असैन्य कर्मचारी काम करते हैं.

पुलिस ने संदिग्ध की पहचान लगभग छह फुट के एक वयस्क नागरिक के रूप में की है, जिसका रंग सांवला है और वह गंजा है. उसने काले रंग की टॉप और जींस पहन रखा था. उसके हाथ में अर्ध-स्वचालित एआर-15 राइफल, एक अन्य राइफल और अर्ध-स्वचालित ग्लॉक बंदूक थी.

घायलों में वाशिंगटन पुलिस और नेवीयार्ड के एक सुरक्षा अधिकारी भी शामिल हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इस गोलीबारी की घटना के बाद रीगन नेशनल एयरपोर्ट पर हवाई परिवहन थोड़ी देर के लिए बंद कर दिया गया और इसके साथ ही कुछ निजी और सरकारी स्कूलों को भी एहतियातन बंद कर दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *