चीनी वायुसीमा में अमरीका बमवर्षक विमान

बीजिंग | एजेंसी: अमेरिका के दो बी-52 बमवर्षक विमानों ने पूर्वी चीन सागर के ऊपर चीन के नए हवाई-रक्षा क्षेत्र में सीधे घुस गए. अमरीका ने चीन को इसकी पूर्व सूचना नहीं दी थी. चीन के अधिकारियों ने क्षेत्र में प्रवेश करने से पहले अनुमति लेने शर्त रखी हुई है.

चीन ने पिछले सप्ताह ईस्ट चाइना सी एयर डिफेंस आइडेंटीफिकेशन जोन की स्थापना की थी. इसमें विवादित दियाओयू द्वीप भी शामिल है. जिसे जापान के सेनकाकू द्वीप के नाम से भी जाना जाता है.


घोषणा की गई थी कि विमान इस क्षेत्र के नियमों का अवश्य पालन करें. ऐसा न करने पर सशस्त्रबल अपने बचाव में विमानों पर आपातकालीन उपायों को अपनाएंगे.

बीबीसी ने अमेरिकी रक्षा अधिकारियों के हवाला से कहा कि सोमवार को निहत्थे अमेरिकी बमवर्षक विमान गुआम से उड़े. यह उड़ान नियमित कार्रवाई का हिस्सा थी. अधिकारियों ने बताया कि बाद में दोनों विमान गुआम लौट गए.

कर्नल स्टीव वारेन के मुताबिक, “वाशिंगटन ने सेनकाकुस के इलाके में अभियान आयोजित किया था.”

वारेन के हवाले से बीबीसी ने कहा, “हमारी सामान्य प्रक्रिया जारी है, जिसमें उड़ान योजनाओं में शामिल न होना, संदेश आगे न भेजना और हमारी आवृतियां दर्ज न करना शामिल है.”

उन्होंने कहा कि इस पर चीन की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!