बिहार में अमित शाह को हार की आशंका?

मोतिहारी | समाचार डेस्क: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के ताजा भाषणों से हताशा की झलक मिलती है. उन्होंने बिहार की जनता को यह कहते हुये चेताया कि भाजपा की हार पर पाक में फटाखे फूटेंगे. इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में भाजपा की लहर चल रही है. इधर, इस बयान के विरोध में सत्ताधारी महागठबंधन निर्वाचन आयोग से मिलेगा और शाह की शिकायत करेगा. पूर्वी चंपारण जिले के रक्सौल में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, “बिहार विधानसभा चुनाव में गलती से भी अगर भाजपा हार गई तो जय-पराजय तो बिहार में होगी, परंतु पटाखे पाकिस्तान में जलेंगे.”

प्रधानमंत्री के वादों को जुमले बताने वाले शाह ने हालांकि कहा कि बिहार में भाजपा की लहर चल रही है और हर हाल में राजग की सरकार बनेगी.

इधर, जनता दल युनाइटेड के प्रवक्ता क़े सी़ त्यागी ने कहा कि शाह का यह बयान बिहार के सभी दलितों, महादलितों समेत उन अधिकांश लोगों का अपमान है, जो भाजपा के हारने पर खुश होंगे और पटाखे जलाएंगे. ऐसे में क्या ये सभी लोग पाकिस्तानी हो जाएंगे?

उन्होंने बताया कि महागठबंधन के नेता दिल्ली में मुख्य निर्वाचन आयुक्त से मिलकर शाह के खिलाफ कारवाई करने की मांग करेंगे तथा बिहार के चुनाव से शाह को अलग रखने का निवेदन भी करेंगे.

रक्सौल की जनसभा में शाह ने आगे कहा कि बिहार 25 साल में पिछड़ गया है. कई राज्यों कें सभी गांवों में बिजली पहुंच गई, सड़क बन गए, परंतु बिहार पीछे रह गया. आज बिहार के लोगों की आखों में परिवर्तन दिख रहा है.

उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि लालू इस चुनाव को अगड़ी जातियों और पिछड़ी जातियों की लड़ाई बता रहे हैं, परंतु सही अर्थ में यह चुनाव अगड़े और पिछड़े बिहार के बीच की लड़ाई है. शाह ने अगड़ा बिहार बनाने के लिए राजग को वोट देने की अपील की.

शाह के ऐसे बयान मौजूदा बिहार का जातीय समीकरण महागठबंधन के पक्ष में जाते देख भाजपा में छाई घबराहट के संकेत हैं.

बिहार विधानसभा की 243 सीटों के लिए पांच चरणों में मतदान होना है. एक नवंबर को चौथे और पांच नवंबर को पांचवें चरण का मतदान होना है. चुनाव के नतीजे पटाखे जलाने के दिन यानी दिवाली से ठीक तीन दिन पहले, आठ नवंबर को होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *