पकड़े जायेंगे आसाराम

नई दिल्ली | एजेंसी: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने आसाराम बापू के समर्थकों द्वारा शनिवार को पत्रकारों पर किए गए हमले की निंदा की है. मनीष ने ट्विटर पर लिखा है, “धार्मिक उपदेशक के समर्थकों द्वारा पत्रकारों पर हमला निराशाजनक और निंदनीय है. यही वह अपने शिष्यों को पढ़ाते और उपदेश देते हैं.”

जोधपुर स्थित आसाराम के आश्रम के बाहर शनिवार को उनके समर्थकों की भारी भीड़ उमड़ आई. इनमें से कुछ ने आसाराम पर लगे यौन उत्पीड़न मामले की गतिविधियों को कवर कर रहे मीडियाकर्मियों पर हमला किया.


तिवारी ने एक समाचार चैनल से कहा, “लोग हमलावर को जरूर याद रखेंगे, वह कानून से बड़े नहीं है कानून हमेशा ऊपर रहता है. मुझे इस बात का भरोसा है कि राजस्थान सरकार इस मामले को देखेगी और हमलावरों को न्याय के कानून के कटघरे में लाएगी.”

गौरतलब है कि16 वर्षीया लड़की ने आसाराम के खिलाफ जोधपुर स्थित उनके आश्रम में उसका यौन उत्पीड़न किए जाने की शिकायत दर्ज कराई थी. 20 अगस्त को लगाए गए इस आरोप में ही वह गिरफ्तारी का सामना कर रहे हैं. उन्होंने हालांकि, इस आरोप का खंडन किया है.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आसाराम की होने वाली गिरफ्तारी की खबर के बीच उनके समर्थकों की भीड़ बढ़ रही है. उन्होंने बताया कि आसाराम के आश्रम के बाहर उनके समर्थकों ने शनिवार सुबह कुछ मीडियाकर्मियों पर हमला भी किया है.

उन्होंने कहा, “आसाराम से पूछताछ के लिए टीम निकल चुकी है और इसके बाद संभवत: उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा, हमें वहां स्थिति आगे नियंत्रण के बाहर होने की आशंका है. उनके समर्थक हंगामा कर सकते हैं. इसलिए हमने आश्रम के नजदीक और जोधपुर के अन्य स्थानों पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया है.”

अधिकारी ने बताया कि राजस्थान आर्म्ड कांस्टाबुलरी (आरएसी) की बटालियन को वहां तैनात किया गया है. उन्होंने कहा, “हम घटनास्थल को कवर कर रहे मीडियाकर्मियों को सुरक्षा उपलब्ध कराएंगे.”

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आसाराम को हिरासत में लेने के बाद जोधपुर लाया जाएगा. उन्होंने कहा, “उन्हें इसके बाद गिरफ्तार किया जा सकता है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!