‘खतरों के खिलाड़ी’ आशीष चौधरी

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: अपने बेटियों के भाग्य से आशीष चौधरी रियलिटी शो के खतरों के खिलाड़ी बन गये हैं. आशीष ने अपने खतरों के खिलाड़ी में विजयी रहने का पूरा श्रेय अपनी नवजात बेटियों को दिया है. बड़े एवं छोटे पर्दे के जाने-माने अभिनेता आशीष चौधरी स्टंट आधारित रियलिटी शो ‘खतरों के खिलाड़ी-डर का ब्लॉकबस्टर रिट्नर्स’ के विजेता चुने गए हैं. वह कहते हैं कि उनकी इस जीत के लिए उनकी नवाजत जुड़वा बेटियां सौभाग्यशाली साबित हुईं. शो के विजेता के रूप में आशीष ने एक ट्रॉफी, 25 रुपये नकद और एक महिंद्रा स्कॉर्पियो कार जीती है.

36 वर्षीय आशीष ने इस रियलिटी में प्रतिभाग करने का निर्णय उस समय लिया था, जब उनकी बेटियां-सलारा और सम्माह महज 15 दिन की थीं.


आशीष को बेटा अगत्स्य भी है. वह अपनी दिवंगत बहन के बच्चों कनिष्क और अनन्या की भी देखभाल करते हैं. यानी उनके कंधों पर कुल पांच बच्चों की जिम्मेदारी है.

उन्होंने कहा, “मुझे बच्चे हमेशा से अच्छे लगते थे. मेरे ख्याल से मेरी बच्चियां मेरे लिए सौभाग्यशाली हैं, क्योंकि मैं उन्हें उस वक्त छोड़कर आया था जब वह महज 15 दिन की थीं. मेरे ख्याल से उनकी किस्मत ने मेरे लिए तिलिस्म का काम किया.”

‘धमाल’ फिल्म में अभिनय कर चुके आशीष कहते हैं कि पितृत्व आपको और ज्यादा जिम्मेदार बनाता है.

उन्होंने कहा, “मैं खुश हूं कि मैंने युवावस्था में गृहस्थी बसा ली और उसके बाद पिता बना. मुझे इस बात की खुशी है कि इसने मुझे एक ज्यादा जिम्मेदार एवं मेहनती इंसान बन दिया, क्योंकि जब आप युवा होते हैं, तो चीजों को बहुत हल्के में ले सकते हैं. शादी आपका केवल तभी भला कर सकती है, जब आपके पास मेरे परिवार जैसा एक परिवार हो.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!