‘नोटबंदी का तनाव दूर करने योग करें’

रायपुर | संवाददाता: बाबा रामदेव ने कहा नोटबंदी से आये तनाव को योग से दूर करें. तीन दिन के छत्तीसगढ़ प्रवास पर आये बाबा रामदेव ने कहा नोटबंदी से आये तनाव को कम करने अनुलोम-विलोम और कपालभाति की सलाह दी है. बाबा रामदेव ने कहा कोई भी नेता अच्छे दिन नहीं ला सकता. छत्तीसगढ़ प्रवास पर पहुंचे बाबा रामदेव ने सोमवार को रायपुर में कहा कि कोई भी नेता या दल अच्छे दिन नहीं ला सकता. अच्छे दिन के लिये सरकारों को ईमानदारी से काम करना चाहिये. बाबा रामदेव ने कहा प्रधानमंत्री मोदी की नीयत अच्छी है और वह वोट बैंक नहीं देश बनाने का काम कर रहें हैं. उन्होंने कहा जनता हर काम राजनीतिक दलों से कराना चाहती है, यह सोच सही नहीं है. अच्छे दिन के लिये सरकार और जनता को मिलकर काम करना चाहिये.

बाबा रामदेव ने कहा कि भिलाई में मंगलवार को एक लाख से ज्यादा लोग एकसाथ योग करके विश्व रिकॉर्ड बनाने जा रहे हैं. योग को राजनीतिक पहचान नहीं मिली थी, लेकिन नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राजनीतिक सम्मान मिला है.


रामदेव ने कहा कि वे भोग के ग्लैमर की जगह योग का ग्लैमर बिखरने के लिए यहां पहुंचे हैं. काले धन के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि देश की आंतरिक व्यवस्था में 80 से 85 फीसदी काला धन था. इसे बाहर लाने के लिए मोदी ने साहसिक कदम उठाया. उम्मीद है कि मोदी एक–एक करके विदेश से काला धन लाने के लिए भी प्रयास करेंगे. बड़े नोट के दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं. 2000 के नोट छपना बंद होने चाहिये और सरकार को कैशलेस अर्थव्यवस्था की ओर बढ़ना चाहिये. नोटबंदी से आये तनाव को दूर करने के लिए बाबा रामदेव ने अनुलोम-विलोम और कपालभाति करने की सलाह दी है.

बाबा रामदेव ने कहा कि अनिवार्य मतदान लोकतंत्र के लिए संजीवनी है. अनिवार्य मतदान से जवाबदेही बनती है, लेकिन भारत में इतनी राजनीतिक परिपक्वता अभी नहीं आई है. विश्व के कई देशों में मतदान नहीं करने वालों को सरकारी सुविधाओं से वंचित किया जाता है. समाजवादी पार्टी में मचे घमासान पर बाबा ने कहा कि वे अब बिना पार्टी के निर्दलीय हो गये हैं, इसलिए कोई टिप्पणी नहीं करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!