एक्सीडेंट में तीन पुलिसकर्मियों की मौत

बलरामपुर | संवाददाता: बलरामपुर जिले के राजपुर-कुसमी मार्ग पर 14 दिसंबर की देर रात सेवारी और भदार के बीच कार में सवार पांच पुलिसकर्मी एवं सामरी से बॉक्साइड लेकर आ रही हाइवा में आमने-सामने भिड़ंत हो गई, जिससे कार में सवार शंकरगढ़ थाना के प्रŠधान आरक्षक की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं गंभीर रूप से ƒघायल एक आरक्षक की अम्बिकापुर मिशन अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई.

शेष तीन पुलिसकर्मियों को भी मिशन अस्पताल में उपचार हेतु लाया गया, जहां दो को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दिया गया. वहीं एक अ‹न्य का उपचार मिशन अस्पताल में जारी है.

बताया जा रहा है कि शंकरगढ़ थाने में पदस्थ एएसआई महेश कुशवाहा, प्रŠधान आरक्षक, दयाल दास महंत, आरक्षक रंजीत सोनी, प्रमोद टोŒपो, अभय रा˜त्रि में कार से पेट्रोलिंग कर वापस शंकरगढ़ थाने आ रहे थे.

वहीं ƒघायल एसआई का कहना है कि वे किसी मुजरिम के लिए खाना लेने राजपुर जा रहे थे. उसी दौरान सामरी से गढ़वा निवासी अजय लाल की हाइवा ट्रक बाय्साइड लेकर आ रही थी. तभी राजपुर कुसमी मार्ग पर सेवारी एवं भदार के बीच दोनों में जबरदस्त भिड़त हो गई.

इस जबरदस्त भिडंत से प्रŠधान आरक्षक दयाल दास निवासी कुंजीकला पˆथलगांव की मौके पर ही मौˆत हो गई और आरक्षक रंजीत सिंह निवासी कुसमी जो कि अपने ƒघर का एकलौता बेटा था, उसकी मिशन अस्पताल में उपचार के दौरान रा˜त्रि में ही मौˆत हो गई. उन्होंने बताया कि एएसआई महेश कुशवाहा का उपचार मिशन अस्पताल में जारी है तथा प्रमोद टोŒपो एवं अभय को मामूली चोट लगी थी, जि‹हें उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई.

हादसे में मृˆत आरक्षक रंजीत सोनी एवं प्रŠधान आरक्षक दयाल दास मंहत को 50-50 हजार की तत्कालीन सहायता राशि प्रदान की गई. पुलिस विभाग में इस हादसे को लेकर शोक का माहौल निर्मित है.

बताया जा रहा है कि जिस वक्त कार एवं हाइवा ट्रक में भिडंत हुई, उस वक्त रा˜ित लगभग 10 बजे का समय था. जहां ƒघायल एवं मृˆतकों की सुŠध लेने वाला कोई नहीं था. उसी दौरान संजीवनी 108 वाहन जो कि क्षे˜त्र में कहीं महिला नसबंदी कैम्प से आ रहा था, उसके चालक रामसाय ने इसकी सूचना शंकरगढ़ थाने को दी तथा ƒघायलों को अम्बिकापुर मिशन अस्पताल पहुंचाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *