ओबामा का आगरा दौरा रद्द

आगरा | एजेंसी: अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा तथा उनकी पत्नी मिशेल का ताजमहल के दीदार के लिए आगरा दौरा रद्द हो गया है. इसकी जगह अब वे सऊदी अरब के सुल्तान अब्दुल्ला बिन अब्दुलाजिज अल साउद की अंत्येष्टि में शामिल होने और शोक प्रकट करने के लिए रियाद जाएंगे. अमरीका के राष्ट्रपति कार्यालय ने शनिवार को यह जानकारी दी. व्हाइट हाउस ने कहा, “ओबामा और उनकी पत्नी मिशेल मंगलवार को सऊदी अरब के सुल्तान सलमान बिन अब्दुलाजिज और दिवंगत सुल्तान अब्दुल्ला बिन अब्दुलाजिज के परिवार को सम्मान देने के लिए रियाद जाएंगे.”

राष्ट्रपति ओबामा गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि के रूप में रविवार को तीन दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंच रहे हैं. वह 27 जनवरी को आगरा दौरे पर जाने वाले थे.


अमरीका के राष्ट्रपति कार्यालय के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने एक बयान में कहा कि सऊदी अरब में अमरीका प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व राष्ट्रपति के स्थान पर उपराष्ट्रपति जो बिडेन करने वाले थे.

उन्होंने कहा, “चूंकि राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के दौरा निश्चित है. इसीलिए हम इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि जिस समय उपराष्ट्रपति रियाद पहुंचे, उसी समय राष्ट्रपति बराक ओबामा भारत से रियाद के लिए रवाना हो सकें.”

बयान में कहा गया, “भारत की सरकार के सहयोग से हम परिस्थिति के अनुसार हमने ओबामा का कार्यक्रम तय किया, ताकि राष्ट्रपति मंगलवार को अपना संबोधन देने के बाद भारत से निकल सकें. अमरीका वापसी के दौरान वे रियाद में रुकेंगे और सऊदी अरब के सुल्तान सलमान और अधिकारियों से मिलेंगे और दिवंगत सुल्तान अब्दुल्ला के निधन पर शोक प्रकट करेंगे.”

अमरीकी राष्ट्रपति के कार्यालय ने कहा, “ओबामा को अफसोस है कि अपनी भारत यात्रा के दौरान वे आगरा दौरे पर नहीं जा पाएंगे.”

बयान में कहा गया है कि ओबामा की यात्रा के दौरान उपराष्ट्रपति वाशिंगटन में ही रहेंगे.

27 जनवरी की दोपहर रियाद रवाना होने से पहले ओबामा राष्ट्रीय राजधानी स्थित सिरी फोर्ट स्टेडियम में ‘इंडिया एंड अमरीका : द फ्यूचर वी कैन विल्ड टुगेदर’ पर चर्चा करेंगे.

आगरा के जिलाधिकारी पंकज कुमार ने संवाददाताओं से ओबामा का आगरा दौरा रद्द होने की पुष्टि की है.

एक अधिकारी ने कहा कि अमरीकी खुफिया सेवा अधिकारी व अन्य अधिकारी आगरा से लौट चुके हैं.

ओबामा मंगलवार को अमरीका रवाना होने के पहले ताजमहल के दीदार के लिए आगरा जाने वाले थे.

एक अधिकारी ने आगरा में कहा, “अमरीका की प्रथम महिला व राष्ट्रपति दोनों ताजमहल के दीदार के लिए बेहद उत्सुक थे, क्योंकि साल 2010 में अपने पहले भारत दौरे के दौरान वे ऐसा नहीं कर पाए थे. लेकिन उनका दौरा अब रद्द हो चुका है.”

खराब मौसम के मद्देनजर यमुना एक्सप्रेसवे के रास्ते भी आगरा जाने पर विचार किया गया था.

लेकिन मौसमी कोहरा होने के कारण अमेरिकी खुफिया सेवा कथित तौर पर नई दिल्ली से आगरा के दो घंटे लंबी यात्रा के लिए तैयार नहीं हुई.

उनके दौरे के लिए सुरक्षा के मद्देनजर आगरा के अधिकारियों ने तीन घंटे के लिए मोबाइल सेवा पर पाबंदी लगाने का भी फैसला लिया था.

इलाके में सैकड़ों सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई थी. अधिकारियों ने 27 जनवरी को ताजमहल के आसपास स्कूलों को बंद रखने की भी योजना बनाई थी.

ताजमहल से लेकर हवाईअड्डे तक के 12 किलोमीटर के रास्ते को उनकी यात्रा से दो घंटे पहले तथा बाद तक स्थानीय लोगों के लिए बंद करने की योजना बनाई गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!