भिलाई के बच्चे दुबई में दिखाएंगे संगीत कौशल

भिलाई | एजेंसी: छत्तीसगढ़ की इस्पात नगरी भिलाई के बच्चे इस माह के अंतिम सप्ताह में दुबई में होने वाले कल्चरल ओलंपियाड ऑफ परफार्मिग आर्ट में इंस्ट्रूमेंट फ्यूजन प्रस्तुत करेंगे. विभिन्न शास्त्रीय रागों को मिलाकर तैयार किए गए संगीतमय कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगीत ‘वंदे मातरम्’ के साथ किया जाएगा.

दुर्ग जिले के बोरसी में संचालित संस्था ‘स्वर गंधर्व’ में संगीत की शिक्षा प्राप्त कर रहे छह बच्चों के दल में एस. मृणाल, वैभव परमार, राहुल टॉम, रिचर्ड एंब्रोस, गीतिका डोंगरे व अद्वैत वी. कृष्णा शामिल हैं. ये सभी बच्चे की-बोर्ड वादन में पारंगत हैं.

प्रस्तुति के दौरान तबले पर इन्हें भूपेंद्र साहू संगत देंगे. स्वर गंधर्व से जुड़ीं सविता सुनील बताती हैं कि बच्चों के इस दल ने इस साल मई में पुणे में अखिल भारतीय सांस्कृतिक संघ द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रथम स्थान प्राप्त किया था, जिसके आधार पर इनका चयन दुबई में 26 से 29 दिसंबर तक आयोजित कल्चरल ओलंपियाड के लिए हुआ है.

सविता ने बताया कि ये बच्चे अपने प्रदर्शन से अगर दुबई में भी निर्णायकों को प्रभावित कर पाए तो इन्हें प्रमाणपत्र व पदक के अलावा छात्रवृत्ति भी मिलेगी. उन्होंने बताया कि इन बच्चों के अलावा स्वर गंधर्व से 10 सदस्यीय दूसरा दल भी देशभक्ति गीत की खुली स्पर्धा में भाग लेगा. इस दल का चयन भी पुणे में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रभावी प्रदर्शन की बदौलत हुआ है.

पिछले 11 वर्षो से बोरसी में संचालित हो रही संस्था स्वर गंधर्व के अध्यक्ष अजीत बनर्जी ने कहा कि उनकी संस्था के दो दलों का चयन कल्चरल ओलंपियाड के लिए होना छत्तीसगढ़ के लिए गर्व की बात है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *