भाजपा ने विधायकों को 2-2 करोड़ में खरीदा

रांची | संवाददाता: भाजपा ने विधायकों को खरीदने के लिये दो-दो करोड़ रुपये दिये थे. यह सनसनीखेज आरोप झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने लगाया है. उन्होंने झारखंड के तत्कालीन पार्टी अध्यक्ष द्वारा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेजी गई वह कथित चिट्ठी भी सौंपी है, जिसमें विधायकों को दिये गये पैसों का हिसाब है.

उन्होंने शुक्रवार को राज्यपाल राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात कर उन्हें वह पत्र सौंपा, जिसे कथित रुप से भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष ने लिखा था. गौरतलब है कि बाबूलाल मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा के 6 विधायक चुनाव जीतने के बाद भाजपा में शामिल हो गये थे.


2014 के विधानसभा चुनाव में मरांडी की पार्टी से आठ विधायक चुन कर आये थे. लेकिन महीने भर बाद फरवरी 2015 में इनमें से 6 विधायक भाजपा में शामिल हो गये थे. इनमें से दो को भाजपा ने अपनी सरकार में मंत्री बनाया, जबकि 3 को निगमों का अध्यक्ष बनाया गया.

मरांडी ने शुक्रवार को राज्यपाल को जो चिट्ठी सौंपी है, वह कथित रुप से तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष रवींद्र कुमार राय की लिखी हुई है. राय अभी कोडरमा से सांसद हैं. तत्कालीन झारखंड के प्रभारी और उत्तराखंड के नेता त्रिवेंद्र सिंह रावत के हवाले से लिखे गये 19 जनवरी 2015 के इस कथित पत्र में कहा गया है कि गणेश गंझू, रणवीर कुमार सिंह, नवीन जायसवाल और आलोक कुमार चौरसिया को दो करोड़ रुपये दिये गये, जबकि विधायक अमर बउरी को कथित रुप से एक करोड़ रुपये का भुगतान किया गया.

इस मामले पर अभी तक भारतीय जनता पार्टी की प्रतिक्रिया नहीं मिली है. लेकिन जिन विधायकों का जिक्र इस कथित पत्र में हुआ है, उन्होंने पूरे आरोप को बेबुनियाद और शरारतपूर्ण बताया है. इन विधायकों ने कहा है कि बाबूलाल मरांडी उनका चरित्र हनन की कोशिश कर रहे हैं. विधायकों ने चुनाव से ठीक पहले इस तरह की कथित चिट्ठी को उछाले जाने को राजनीतिक साजिश करार दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!