अनुराग ठाकुर BCCI अध्यक्ष बने

मुम्बई | समाचार डेस्क: भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर रविवार को निर्विरोध रूप से बीसीसीआई के अध्यक्ष चुन लिए गए. अनुराग ठाकुर हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं. वह हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के पुत्र हैं और साथ ही साथ हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ के अध्यक्ष भी हैं. 41 साल के ठाकुर इस पद पर आसीन होने वाले सबसे युवा प्रतिनिधि हैं. मुम्बई स्थित बीसीसीआई मुख्यालय में आयोजित विशेष आम बैठक में ठाकुर को सर्वसम्मित से विश्व के सबसे धनी बोर्ड का नया मुखिया चुना गया.

ठाकुर इस पद के अकेले उम्मीदवार थे. वह सितम्बर 2017 तक इस पद पर रहेंगे लेकिन आने वाला समय उनके लिए काफी चुनौतीपूर्ण होने वाला है.

इसका कारण यह है कि बोर्ड की संरचना और उसके कामकाज को लेकर लोढ़ा समिति की सिफारिशों पर सर्वोच्च न्यायालय जल्द ही फैसला सुनाने वाला है और ठाकुर के सामने इन्हें लागू करने की चुनौती होगी. लोढ़ा समिति की कुछ सिफारिशें वाकई बोर्ड को भारी पड़ने वाली हैं.

शशांक मनोहर के बीसीसीआई अध्यक्ष पद छोड़ने और फिर आईसीसी का पहला स्वतंत्र चैयरमैन बनने के बाद से ही बीसीसीआई सचिव ठाकुर के इस पद पर आसीन होने की अटकलें लगाई जा रही थीं.

ठाकुर के अध्यक्ष बनने का बाद महाराष्ट्र क्रिकेट संघ के अध्यक्ष अजय शिर्के को बीसीसीआई के नए सचिव के तौर पर नामांकित किया गया. ठाकुर ने शिर्के के नाम आगे किया.

शिर्के इससे पहले बीसीसीआई कोषाध्यक्ष के तौर पर काम कर चुके हैं. 2013 में उन्होंने अपना पद त्याग दिया था क्योकि वह एन श्रीनिवासन की अधय्क्षता वाले बोर्ड के कामकाज से खुश नहीं थे. शिर्के इस बात को लेकर नाराज थे कि बोर्ड 2013 के आईपीएल सट्टेबाजी और स्पॉट फिक्सिंग मामले में उचित कदम नहीं उठा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *