जारी रहेगा भाजपा-तेदेपा गठबंधन

हैदराबाद | एजेंसी: सीमांध्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के बीच गठबंधन बरकरार रहेगा. दोनों पार्टियों ने शुक्रवार को अपने मतभेद दूर कर लिए.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर और तेदेपा प्रमुख एन.चंद्रबाबू नायडू के बीच चली लंबी बातचीत के बाद गठबंधन के बरकरार रखने की घोषणा की गई.

जावड़ेकर ने कहा कि भाजपा विधानसभा की आवंटित की गई एक सीट छोड़ने के लिए तैयार हो गई है और तेदेपा अब इसे विधान परिषद में तीन सीटें देगी.

पूर्व सीटों को लेकर हुई साझेदारी के अनुसार तेदेपा ने भाजपा को 15 और लोकसभा की पांच सीटें दी थीं. लेकिन इस मतभेद के बाद भाजपा विधानसभा की 14 और लोकसभा की चार सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

भाजपा उन तीन उम्मीदवारों को भी हटाने के लिए राजी हो गई है, जिसे तेदेपा कमजोर मान रही थी.

आंध्र प्रदेश में भाजपा प्रभारी जावड़ेकर ने नायडू के आवास पर उनसे मुलाकात की. उन्होंने तेदेपा नेताओं के.राममोहन राव और सुजान चौधरी से भाजपा नेता वेंकैया नायडू के आवास पर मुलाकात की. नायडू ने गुरुवार को कहा था कि भाजपा के साथ तेदेपा के लिए गठबंधन करना महंगा साबित हो रहा है. नायडू, भाजपा द्वारा डी.पुरंदेस्वरी को राजमपेट से टिकट दिए जाने से भी नाराज हैं.

पुरंदेस्वरी ने पिछले सप्ताह ही कांग्रेस छोड़ कर भाजपा का दामन थामा था. उन्हें हालांकि, विशाखापट्टनम से टिकट नहीं दिया गया है, जहां से वह 2009 में चुन कर लोकसभा पहुंची थीं.

तेदेपा प्रमुख उनके करीबी व्यवसायी रघुराम कृष्णन राजू को नजरअंदाज किए जाने से भी नाराज हैं. नायडू चाहते थे कि भाजपा उन्हें नरसापुर सीट से टिकट दे. राजू ने गुरुवार को निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में पर्चा भरा है.

गठबंधन के तहत तेदेपा ने भाजपा को तेलंगाना में लोकसभा की आठ और विधानसभा की 47 सीटें दी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *