ईशनिंदा: वीना मलिक उच्च न्यायालय जायेंगी

दुबई | मनोरंजन डेस्क: ईंशनिंदा के आरोप में 26 साल सजा जाने के खिलाफ वीना मलिक पाकिस्तान के उच्च न्यायलय में अपील करेंगी. पाकिस्तानी अभिनेत्री वीना मलिक ने ईशनिंदा मामले में उन्हें और उनके पति सहित अन्य लोगों को 26 साल कारावास की सजा सुनाए जाने पर ‘हैरानी’ जताई है. उन्होंने स्वयं को निर्दोष बताते हुए कहा कि उन्हें पाकिस्तान की न्यायिक प्रणाली पर उन्हें पूरा भरोसा है. वह अब उच्च अदालत का दरवाजा खटखटाने जा रही हैं. गिलगिट-बाल्टिस्तान की एक आतंकरोधी अदालत ने मंगलवार को वीना और उनके पति असद बशीर खान खटक को 26 साल के कारावास की सजा सुनाई. उन्हें यह सजा एक विवादास्पद शो में जियो टीवी के मालिक मीर शकील-उर-रहमान एवं टेलीविजन मेबजान शाइस्ता लोधी संग बातचीत में ईशनिंदा करने पर सुनाई गई है. शो 14 मई को प्रसारित हुआ था.

शो की उस कड़ी में वीना सूफी संगीतकारों द्वारा पैंगबर की बेटी की शादी के बारे में गाए जा रहे एक भक्ति गीत पर अपने पति के साथ नाचती दिख रही थीं.

वीना ने बुधवार को एक बयान में कहा, “मेरे लिए यह एक झटका है, लेकिन मुझे पाकिस्तान के उच्च न्यायालय और न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है. यह अदालत पाकिस्तान की दूसरी अदालतों से अलग है. पाकिस्तान में सर्वोच्च न्यायालय जैसी उच्च अदालतें हैं.”

वीना ने कहा, “जिस समय सजा सुनाई गई, उस वक्त हम अदालत में मौजूद भी नहीं थे. मुझे अदालतों पर पूरा यकीन और भरोसा है.”

वीना के वकील ने फैसले के खिलाफ उच्च न्यायालयों में अपील करने की तैयारी शुरू कर दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *