ब्रिक्स से वैश्विक आर्थिक स्थिरता: मोदी

नई दिल्ली | संवाददाता: ब्रिक्स सम्मेलन से आपसी रिश्ते प्रगाढ़ होंगे. ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में रवाना होने के पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि “हम ऐसे दौरे में मिल रहे हैं जब दुनिया के अनेक भागों में राजनीतिक शोरगुल, संघर्ष और मानवीय संकट है और वैश्विक अर्थव्यवस्था में कमजोरी और जोखिम विद्यमान है. अनेक उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं में सुस्ती छाई हुई है जिसने समावेशी और सतत आर्थिक विकास की राह में चुनौती बढ़ा दी है.”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत आर्थिक वृद्धि, शांति और स्थिरता को प्रोत्साहन देने के लिए ब्रिक्स मंच को बहुत महत्व देता है. गौरतलब है कि रविवार को ब्राजील रवाना होने के पहले मोदी ने यह बयान जारी किया हैं. मोदी ने कहा “यह शिखर सम्मेलन प्रधानमंत्री के रूप में हमारे महत्वपूर्ण वैश्विक सहयोगियों -ब्राजील, चीन, रूस और दक्षिण अफ्रीका के नेताओं से मेरी पहली मुलाकात का अवसर भी देगा. मुझे उनके साथ आपसी संबंधों को प्रगाढ़ करने और वैश्विक एवं क्षेत्रीय घटनाक्रम पर उनके साथ विचारों के आदान-प्रदान के लिए सार्थक बैठक की भी उम्मीद है.”


प्रधानमंत्री मोदी ब्रिक्स सम्मेलन को आर्थिक विकास के लिये जरूरी मानते हैं. उन्होंने कहा “मुझे ब्रिक्स देशों के बीच आर्थिक सहयोग आगे बढ़ाने और वैश्विक आर्थिक स्थिरता एवं समृद्धि की दिशा में हमारे सामूहिक प्रयासों पर चर्चा की भी उम्मीद है. विशेष रूप से, मुझे नए विकास बैंक और आकस्मिक आरक्षी व्यवस्था जैसी प्रमुख ब्रिक्स पहल के सफल निष्कर्ष तक पहुंचने की भी आशा है जिनमें 2012 में नई दिल्ली में इनकी शुरुआत से महत्वपूर्ण प्रगति हुई है. इन प्रयासों से ब्रिक्स में वृद्धि और स्थिरता को समर्थन मिलेगा तथा अन्य विकासशील देशों को भी फायदा होगा.”

गौरतलब है कि ब्रिक्स सम्मलेन मोदी का पहला अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन है जिसमें प्रधानमंत्री बनने के बाद वह भाग लेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!