ब्रिटेन माल्या को लौटाने में असमर्थ!

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: ब्रिटेन ने विजय माल्या का प्रत्यार्पण कराने में असमर्थता जाहिर की है. सोमवार को ब्रिटिश सरकार द्वारा भारत के उच्चयुक्त को बताया गया है कि विजय माल्या के पास ब्रिटेन में रहने के लिये रेजीडेंट वीजा है तथा वे एक एनआरआई हैं. खबरों के अनुसार विजय माल्या नाम ब्रिटेन की मतदाता सूची में भी शामिल है.

विजय माल्या के पास साल 1992 से ब्रिटेन में रहने का रेजीडेंट वीजा है. भारत सरकार ने उनका पासपोर्ट 24 अप्रैल को रद्द कर दिया था.

उल्लेखनीय है कि विजय माल्या ने भारतीय बैंकों से करीब 9000 करोड़ रुपयों का कर्ज ले रखा है. जब भारतीय बैंकों ने उनसे कर्ज वसूली की कार्यवाही शुरु की तो वे ब्रिटेन भाग गये.

भारत सरकार ने विजय माल्या का पासपोर्ट रद्द कर दिया है. उसके बाद उम्मीद जगी थी कि विजय माल्या को भआरत वापस लाया जा सकेगा परन्तु ब्रिटिश सरकार के नये पैंतरे से यह तुरंत होता नज़र नहीं आ रहा है.

केन्द्र सरकार के सूत्रों का कहना है कि ब्रिटिश सरकार, साल 1993 के प्रत्यापर्ण संधि के अनुसार भारत के साथ बातचीत के लिये तैयार हो गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *