चक्रधर समारोह में आएंगे वडाली बंधु

रायगढ़ | एजेंसी: रायगढ़ की पहचान संगीत, कला व संस्कृति की नगरी के रूप में है. इस पावन धरा पर प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी सितंबर में चक्रधर समारोह आयोजित होगा जिससे दसों दिशाएं संगीत की स्वर लहरियों से झंकृत होती रहेंगी.

रायगढ़ के रामलीला मैदान में 9 सितंबर से 18 सितंबर तक संस्कृति विभाग, जिला प्रशासन और जन सहयोग से दस दिवसीय 29वां चक्रधर समारोह का आयोजन होगा जिसमें कला साधकों, साहित्यविदों, संस्कृतिकर्मियों, कला समीक्षकों, पत्रकारों, इलेक्ट्रॉनिक मिडिया एवं कला रसिकों का अद्भुत संगम होगा.

रायगढ़ के कलेक्टर मुकेश बंसल ने स्थानीय कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित कलाकार चयन समिति तथा कुश्ती एवं कबड्डी प्रतियोगिता के आयोजन संबंधी समिति की बैठक में बताया कि अभी तक इस वर्ष के कार्यक्रम में शामिल होने वाले अधिकांश कलाकारों के चयन पर सहमति हो चुकी है.

कार्यक्रम की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि चक्रधर समारोह रायगढ़ के संगीत सम्राट महाराजा चक्रधर सिंह की याद में गणेश चतुर्थी के अवसर पर प्रतिवर्ष 10 दिनों के लिए आयोजित किया जाता है. इसमें देश के गीत, संगीत, नृत्य, गायन और वादन से जुड़े शीर्ष कलाकार शामिल होते हैं.

उन्होंने कहा कि सभी लोगों की परस्पर सहभागिता से चक्रधर समारोह अब राष्ट्रीय क्षितिज को छूने लगा है और इस परंपरा को कायम रखते हुए सभी की भागीदारी से इस आयोजन के अंतर्गत स्थानीय कलाकारों को भी समुचित अवसर प्रदान किया जाएगा.

इस साल के चक्रधर समारोह का शुभारंभ 9 सितंबर को सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ होगा जिसमें देश के प्रख्यात कलाकार पं. बिरजू महाराज अपने कथक नृत्य की प्रस्तुति देंगे.

चक्रधर समारोह के बाकी कार्यक्रम इस प्रकार है-

10 सितंबर को पद्मश्री उस्ताद रशीद खान का गायन.
11 सितंबर को विजय घाटे का तबला वादन.
14 सितंबर को वडाली ब्रदर्स-पद्मश्री उस्ताद पूरनचंद वडाली व उस्ताद पियारलाल वडाली का गायन.
15 सितंबर को कवि सम्मेलन.
16 सितंबर को हेमा मालिनी-धर्मेद्र की पुत्री ईशा देओल के नृत्य तथा अन्य विभिन्न प्रख्यात कलाकारों की प्रस्तुतियां.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *