छत्तीसगढ़ निकाय चुनाव में 69% मतदान

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में सोमवार को हुए निकाय चुनाव में 69 फीसदी मतदान हुआ है. छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय चुनाव के पहले चरण में सोमवार को छुटपुट विवादों, फर्जी मतदान, ईवीएम की खराबी के बीच मतदान संपन्न हुआ. मतदान के लिए सुबह से ही मतदाताओं में काफी उत्साह देखा गया. राजनीतिक खींचतान और मामूली विवाद के अलावा किसी भी स्थान से अप्रिय वारदात की खबर नहीं है.

राज्य निर्वाचन आयुक्त पी.सी. दलेई ने मतदान समाप्ति के बाद बताया कि धमतरी क्षेत्र में 84 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. नक्सल प्रभावित बस्तर में 56, कोंडागांव में 71, दंतेवाड़ा में 68, सुकमा में 65,कांकेर में 60, नारायणपुर में 63 और बीजापुर में 54 प्रतिशत मतदान हुआ. अंबिकापुर नगर निगम में 67 प्रतिशत मतदान, रायपुर में 58 और बिलासपुर में 56 प्रतिशत मतदान हुआ.

शहरी मतदाताओं ने पहले चरण में 10 नगर निगम, 19 नगर पालिका परिषद और 22 नगर पंचायतों की सरकार चुनने के लिए मतदान किया.

नक्सल प्रभावित 6 जिलों में दोपहर 3 बजे तक मतदान कराया गया. कई स्थानों पर इस दौरान आचार संहिता का खुलकर उल्लंघन हुआ. बूथ के आसपास ही प्रत्याशी और उनके समर्थक प्रचार करते रहे. कई जगह पर बड़ी संख्या में मतदाताओं के नाम सूची में नदारत रहने पर हंगामा हुआ. वहीं रायपुर और बिलासपुर में अंतिम क्षणों में विवाद के बाद बड़े नेताओं को मतदान केंद्र पर पहुंचना पड़ा.

प्रथम चरण के मतदान के लिए तीन हजार 339 मतदान केंद्र बनाए गए थे. बस्तर संभाग के कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, सुकमा, बीजापुर तथा कांकेर जिले की दो नगर पंचायतों पंखाजूर व अंतागढ़ के लिए मतदान सुबह सात से मतदान शुरू हुआ जो दोपहर तीन बजे तक चला. वहीं अन्य जिलों के नगरीय निकायों के लिए मतदान की सुबह आठ से शुरू हुआ जो शाम 5 बजे तक चला.

राजनांदगांव जिले की नगर पालिका परिषद खैरागढ़ के वार्ड संख्या तीन के पार्षद पद के लिए भी मतदान हुआ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *