छत्तीसगढ़: दो मानव तस्कर गिरफ्तार

अंबिकापुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ पुलिस ने सरगुजा के अंबिकापुर से दो मानव तस्कर नान्हू दास व तसील घसिया को गिरफ्तार कर लिया है. दोनों ने स्वीकार भी किया है वे यहां से ग्रामीणों को उंचे वेतन के लालच में दक्षिण के राज्य कर्नाटक तथा तमिलनाडु में ले जाते थे जहां पर उनसे बोरवेल खुदाई का काम कराया जाता था.

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ से लगातार मानव तस्कर यहां के ग्रामीणों को ले जाकर अन्य राज्यों में ठेकेदारों के हवाले कर देते हैं. जहां पर उन्हें बाद में बंधुवा बना लिया जाता है. सरगुजा पुलिस काफी समय से इन दोनों मानव तस्कर नान्हू दास व तसील घसिया की तलाश में थी.

मिली जानकारी के अनुसार नान्हू दास व तसील घसिया ने बलरामपुर जिले के ग्राम कोटपाली निवासी दिनेश अगरिया व बिंदेश्वर नागवंशी नामक दो युवकों को बलपूर्वक दक्षिण के राज्य ले जाने की कोशिश की. कोटपाली के दिनेश अगरिया व बिंदेश्वर नागवंशी अंबिकापुर के घुटरापारा में रहकर मेहनत-मजदूर का काम करते थे. कुछ दिन पहले आरोपी नान्हू दास व तसील घसिया उनसे मिले और आठ हजार रूपए वेतन, खाना, आवास की सुविधा उपलब्ध करा बेहतर काम का लालच दिया. आरोपियों के झांसे में दोनों युवक आ गए. उन्हें बताया गया कि चार और लोग काम करने जायेंगे.

जब दोनों मजदूर शनिवार को अंबिकापुर बस स्टैंड पहुंचे तो उन्होंने देखा कि उनके साथ जाने वालों में दूसरे मजदूर शामिल नहीं हैं. उन दोनों को अकेले ही बिलासपुर ले जाया जा रहा था. जब उन्होंने जाने से इंकार कर दिया . इसके बाद उन्हें बलपूर्वक ले जाने की कोशिश हुई. उस पर वे दोनों समझ गये कि मामला गड़बड़ तथा वे भाग खड़े हुये.

दिनेश अगरिया व बिंदेश्वर नागवंशी की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने दोनों मानव तस्कर नान्हू दास व तसील घसिया को गिरफ्तार कर लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *