अंबिकापुर स्कूल गर्ल मर्डर मिस्ट्री

अंबिकापुर | संवाददाता: अंबिकापुर में दो स्कूली छात्राओं के मौत के रहस्य से पर्दा उठने से पहले ही उसे बंद करने की तैयारी चल रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर जिसमें मौत का कारण डूबना बताया है, मामले को बंद करने की तैयारी है.

गौरतलब है कि 15 दिसंबर की सुबह अंबिकापुर शहर से 15 किलोमीटर दूर घुनघुट्टा बांध में दो स्कूली छात्राओं को मरा हुआ पाया गया था. जिनमें से एक 19 वर्षीया अंजली शर्मा तथा दूसरी 17 वर्षीया सुरभि सिंह थी.


दोनों सहेलियां स्कूल तथा कोंचिंग के बाद बांध तक पहुंची थी. अगले दिन सुबह उनकी लाशें मिली. दोनों शव एक ही स्थान पर पाये जाने से उनकी मौत एक दूसरे को बचाने की कोशिश में हुई बताया जा रहा है.

लेकिन वे बांध तक कैसे पहुंची इसका जवाब किसी के पास नहीं है. वहां पर लड़कियों की न तो कोई स्कूटी वगैरह मिली न ही उनके पास पैसे मिले. ऐसे में वे किस तरह से बांध तक पहुंची इस यक्ष प्रश्न का सवाल नहीं ढूढ़ा जा रहा है.

क्या वे किसी के साथ वहां तक पहुंची थी. बताया जा रहा है कि वहां 15 दिसंबर के दिन वहां एक लावारिस पल्सर बाइक खड़ी थी जो रात के बाद गायब हो गई.

दोनों लड़कियों की सैंडिल को पास-पास पाया गया जैसे किसी ने उन्हें करीने से वहां रखा हो.

सबसे बड़ी बात है कि एक लड़की के चेहरे पर चोट के निशान तथा आंख-नाक से खून निकलने के साक्ष्य मिले थे. वहीं, दूसरी लड़की के मुंह से झाग निकला हुआ था. इससे मरने नहीं मारने का संकेत मिलता है.

पुलिस ने कुछ संदेहियों को हिरासत में लिया था परन्तु उन्हें छोड़ दिया गया. उधर, अभिवाहकों ने भी अब चुप्पी साध ली है.

लड़कियां एक दूसरे को बचाने के चक्कर में पानी में डूब गई थी पुलिस की यह स्टोरी किसी के गले नहीं उतर रही है.

संबंधित खबरें-

छात्राओं की मौत का रहस्य गहराया

ममेरी बहनों का शव मिलने से सनसनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!