सब्जियों के खरीददार नहीं, दाम गिरे

अंबिकापुर | संवाददाता: नोटबंदी के बाद छत्तीसगढ़ में सब्जियों के दाम गिर गये हैं. सरगुजा के अंबिकापुर में सब्जियों के दाम इतने गिर गये हैं कि किसानों को उनकी लागत तक नहीं मिल पा रही है. दरअसल, अंबिकापुर से बनारस तथा इलाहाबाद जाने वाले टमाटर तथा शिमला मिर्च इन दिनों परिवहन व्यवस्था न होने के कारण बाहर नहीं जा पा रही है.

परिवहन करने वाले ट्रकों का कहना है कि चिल्हर की कमी के कारण वे बाहर नहीं जा पा रहें हैं. खुदरा सब्जियों के विक्रेताओं को जहां ग्राहकों का टोटा है वहीं, थोक व्यापारियों की आमदनी घट गई है. किसानों की तो लागत ही नहीं निकल पा रही है.

अंबिकापुर के मुख्य बाजार गुदरी में अभी भी ग्राहका टोटा है. पिछले साल की तुलना में इस साल टमाटर 30 के बजाये 5 रुपये, मटर 80 की जगह 20 रुपये, शिमला मिर्च 80-100 की जगह 20 रुपये, गोभी 40 रुपये की जगह 15 रुपये प्रति किलो की दर से बिक रही है.

लोगों के पास दो-दो हजार के नोट होने के कारण वे सब्जियां नहीं खरीद पा रहें हैं. बाजार से 500 के नोट गायब हो गये हैं. लोगों के पास 100 रुपयों के जितने नोट थे वे भी खर्च हो गये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *