टी शर्ट चप्पल में नहीं था: अमित कटारिया

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के आईएएस अफसर अमित कटारिया ने चुप्पी तोड़ते हुये कहा कि पीएम की अगवानी के समय गर्मी के कारण कोट नहीं पहना. एनडीटीवी को भेजे एक मैसेज में उन्होंने प्रोटोकॉल तोड़े जाने का जवाब दिया. उन्होंने लिखा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के मद्देनजर दिन भर वहां की प्रशासनिक तैयारियों को जायजा लेता रहा. बस्तर में मई के महीने में काफी गरमी पड़ती है और पारा 40 के पार होता है.

अमित कटारिया ने बताया कि इस हालत में यहां कोट और बंद गले की टाई में रहना प्रैक्टिकल नहीं है. मैं पूरी तरह साधारण कपड़ों में था मैंने ब्लू रंग की शर्ट और ब्लैक रंग की पैंट पहनी थी और काले रंगा का जूता पहना था. मैं टी- शर्ट और चप्पल में तो नहीं था. मुख्यमंत्री रमन सिंह और अन्य बड़े अधिकारी प्रधानमंत्री के पहुंचने से बस पांच मिनट पहले सर्किट हाउस से तैयार होकर पहुंचे. जबकि मैं धूप में तैयारियों का जायजा ले रहा था. मैंने गरमी में कोट ना पहनने का फैसला लिया और उसे अपनी कार में रख दिया.


उल्लेखनीय है कि 35 साल के अमित कटारिया को छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा नोटिस दिये जाने के बाद सोशल मीडिया पर उनके समर्थन में पोस्ट आ रहें हैं. मीडिया में भी अमित कटारिया के काला चश्मे पहनकर प्रधानमंत्री मोदी की आगवानी करने वाला फोटो छाया रहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!