अग्निवेश छत्तीसगढ़ से चलाएंगे शराबबंदी अभियान

रायपुर | विशेष संवाददाता: स्वामी अग्निवेश छत्तीसगढ़ से देशव्यापी शराब बंदी आंदोलन शुरु करेंगे. बंधुआ मुक्ति मोर्चा के संयोजक स्वामी अग्निवेश 1 मई से छत्तीसगढ़ से अपना शराबबंदी आंदोलन शुरु करने वाले हैं. छत्तीसगढ़ के शक्ति में जन्में स्वामी अग्निवेश ने कहा कि रेप और महिलाओं के प्रति अपराध रोकने के लिये देशव्यापी शराबबंदी अभियान की शुरुवात वे बसना से करेंगे, जहां आज से 25 साल पहले उनके संगठन ने हजारों की संख्या में बंधुआ मजदूरों को मुक्त कराया था. उन्होंने कहा कि उनका यह शराबबंदी अभियान पूरे देश में चलेगा.

स्वामी अग्निवेश ने कहा है कि रेप समेत महिलाओं के प्रति होने वाले अधिकांश अपराध की घटनाओं के लिये शराब जिम्मेवार है. इन अपराधों को रोकने के लिये शराब पर प्रतिबंध सबसे जरुरी है. स्वामी अग्निवेश ने कहा कि भारतीय संविधान एक तरफ तो धारा 47 में पूर्ण शराबबंदी की बात करता है, उसके उलट सरकारें इसे और बढ़ावा दे रही हैं. ऐसे में या तो हम संविधान को जला दें या फिर उसे लागू करने के लिये शराबबंदी करें.


स्वामी अग्निवेश ने कहा कि पिछले साल दिल्ली में भी जब पैरामेडिकल छात्रा के साथ बस में सामूहिक बलात्कार की घटना हुई थी तब भी पुलिस, प्रशासन और मानसिकता को दोषी ठहराने की कोशिश हुई थी. यह सब कुछ सही हो सकता है लेकिन इन सबकी जड़ में कहीं न कहीं शराब मुख्य बुराई है. इस पर काबू पाये बिना आप आपराधिक बुराइयों से नहीं लड़ सकते.

स्वामी अग्निवेश ने अफसोस जताते हुये कहा कि केंद्र और राज्य सरकारें अपने मुनाफे के लिये शराब को लगातार बढ़ावा देने का काम कर रही हैं. इससे हमारी युवा पीढ़ी शराब और ड्रग्स के दलदल में फंसती चली जा रही है. शराब बनाने वाले सरकार के साथ मिल कर युवाओं को नशे के लिये प्रेरित कर रहे हैं. यह बेहद खतरनाक है.

उन्होंने शराबबंदी से होने वाले राजस्व को लेकर कहा कि यह सरासर झूठ है कि शराब से बहुत राजस्व मिलता है. उन्होंने कहा कि सरकार चाहे तो सकारात्मक तरीक से भी राजस्व कमा सकती है. उन्होंने कहा कि देवीलाल जब हरियाणा में मुख्यमंत्री थे, तब स्वामी अग्निवेश ने उनसे शराबबंदी की मांग की थी. देवीलाल ने भी राजस्व का रोना रोया था. लेकिन तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई से जब मैंने संपर्क किया तो मोरारजी देसाई ने केंद्र सरकार की ओर से इस मद में 50 प्रतिशत की रकम बतौर भारपाई देने की अनुशंसा की थी. स्वामी अग्निवेश ने कहा कि सरकारों में अगर इच्छाशक्ति हो तो सब कुछ ठीक हो सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!