छत्तीसगढ़: घायलों को रायपुर लाया गया

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में यात्री बस के पुल से गिरने से 14 की मौत हो गई है. मिली जानकारी के अनुसार इन 14 शवों को जिला अस्पताल ले जाया चुका है. कई यात्रियों के दबे होने की आशंका है. बलरामपुर के दलधोआ घाट में बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे बस पुल से नीचे पलटकर गिर गई. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने जैसे ही कल देर रात हादसे की जानकारी मिली उन्होंने पड़ोसी राज्य झांरखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास से टेलीफोन पर सम्पर्क कर गढ़वा के घायल यात्रियों के समुचित इलाज का भरोसा दिलाया. अधिकांश घायल झारखंड के हैं.

इसमें 40 लोग घायल हो गए हैं. घटना की सूचना मिलते ही घायलों को बचाने के लिए राहत कार्य शुरू हो गया. कलेक्टर अविनाश शरण घायलों को देखने अस्पताल पहुंचे.


घटना के संबंध में अभी यह पता चल पाया है कि बाइक सवारों को बचाने के चक्कर में बस तीन बार पलट गई. दोनों बाइक सवारों की भी मौत हो चुकी है. यह बस गढ़वा से अंबिकापुर की ओर आ रही थी. इसमें करीब 60 से अधिक लोग सवार थे.

संजीवनी, एंबुलेंस व पुलिस वाहनों से घायलों को अस्पताल लाया जा रहा है. बलरामपुर के स्थानीय नागरिकों, युवाओं, जनप्रतिनिधियों ने मानवता दिखाते हुए घायलों को बस से निकाल गोद में उठाकर निजी वाहनों से अस्पताल पहुंचाया.

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने गुरुवार सवेरे राजधानी रायपुर के अम्बेडकर अस्पताल पहुंच कर बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के बस हादसे में घायल यात्रियों से मुलाकात की. डॉ. रमन सिंह ने डॉक्टरों से सभी घायलों के स्वास्थ्य की जानकारी ली और उनका सर्वश्रेष्ठ इलाज करने के निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने प्रत्येक घायल के पास जाकर न सिर्फ उनका हालचाल पूछा बल्कि स्वयं एक डॉक्टर होने के नाते उन्होंने कई घायलों की नब्ज देखकर उनकी सेहत को भी जांचा.

मुख्यमंत्री ने सभी मृतकों के परिवारों को पच्चीस-पच्चीस हजार रूपए की तात्कालिक सहायता देने की भी घोषणा की. डॉ. सिंह ने दुर्घटना की जानकारी मिलते ही घायलों को रायपुर लाने के लिए भारतीय वायु सेना के हेलीकॉप्टर में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों को राहत और बचाव कार्य के लिए तत्काल मौके पर भेजने के निर्देश दिए.

सीआरपीएफ के जवानों ने हेलीकॉप्टर में गुरुवार सवेरे लगभग चार बजे 14 घायलों को लिफ्ट कर सवेरे 5.30 बजे रायपुर पहुंचाया, जहां उन्हें अम्बेडकर अस्पताल में तत्काल भर्ती करवाया गया. इनमें से दुर्भाग्यवश एक घायल की मौत हो गयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!