छत्तीसगढ़: मुठभेड़ में 4 नक्सली ढेर

बीजापुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ पुलिस ने बस्तर के बीजापुर में 4 नक्सलियों को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया है. एक गैर सरकारी संगठन के आकड़ों के अनुसार छत्तीसगढ़ में देशभर में सबसे ज्यादा नक्सली मारे गये हैं. चारों के शव बरामद कर लिए गए हैं. मारे गए नक्सलियों में से एक की एलजीएस कमांडर व दूसरे की सेक्शन कमांडर के रूप में शिनाख्त की गई है. घटनास्थल से पिस्टल और विस्फोटक सामग्री बरामद की गई हैं.

बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक एस.आर.पी. कल्लूरी एवं बीजापुर के पुलिस अधीक्षक के.एल. ध्रुव ने बताया कि बीजापुर जिला मुख्यालय से बीजापुर के एएसपी मोहित गर्ग के नेतृत्व में पुलिस के संयुक्त बल को रविवार की देर रात गश्त के लिए रवाना किया गया था. तुमनार गांव के पास जंगल में घात लगाए नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर दी.


उन्होंने बताया कि जवाबी कार्रवाई में पुलिस बल ने भी फौरन मोर्चा संभालते हुए फायरिंग की. लगभग एक घंटे चली मुठभेड़ के बाद नक्सलियों के पैर उखड़ गए और वे घने जंगल व पहाड़ियों की आड़ लेकर भाग गए.

अधिकारियों ने बताया कि लगातार बारिश और जलभराव के कारण हालांकि घटनास्थल की अच्छी तरह तलाशी नहीं हो सकी, लेकिन शुरुआती तलाशी में चार वर्दीधारी नक्सलियों के शव बरामद हुए हैं, जिनमें से एक की पहचान एलजीएस कमांडर गंगालूर, दूसरे की सेकंड कंपनी सेक्शन कमांडर राजू और तीसरे की युकेश के रूप में की गई है, चौथे शव की शिनाख्त की कोशिश की जा रही है.

मुठभेड़ स्थल से 9 एमएम पिस्टल बैनर, पोस्टर, दवाइयां, गोला-बारूद, डेटोनेटर, बिजली के तार, बैटरी और दैनिक उपयोग की सामग्री व नक्सली पत्रिकाएं बरामद की गई हैं.

सबसे ज्यादा नक्सली छत्तीसगढ़ में मारे गये
उल्लेखनीय है कि इस साल 2016 में 3 जुलाई तक छत्तीसगढ़ कुल 62 नक्सली सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गये हैं. जिसमें से जनवरी में 21, फरवरी में 9, मार्च में 14, अप्रैल में 6, मई में 8 तथा जून में 4 नक्सली मारे गये हैं.

इस तरह से छत्तीसगढ़ में देशभर में सबसे ज्यादा नक्सली कुल 62 मारे गये हैं. छत्तीसगढ़ के बाद झारखंड में 26, महाराष्ट्र में 11, ओडिशा में 9, तथा आंध्रप्रदेश एवं बिहार में 5-5 नक्सली मारे गये हैं. इस साल 2016 में 3 जुलाई तक देशभर में कुल 118 नक्सली मारे गये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!