बिलाईगढ़ हत्याकांड के हत्यारे अब तक फरार

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के बिलाईगढ़ में 4 लोगों की हत्या करने वाले अब तक गिरप्तार नहीं हुए हैं. गौरतलब है कि यहां के नगरदा गांव के किरानी व्यवसाई की उसके परिवार के 3 सदस्यों सहित शनिवार रात को अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी थी यहां तक कि हत्या का कारण भी अज्ञात ही है.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राज्य के बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के बिलाईगढ़ के नजदीक ग्राम नगरदा में हुए इस हत्या की घटना को गंभीरता से लिया है. उन्होंने इस घटना की तीव्र निन्दा की है और पीड़ित परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना और सहानुभूति प्रकट की है. मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि इस शोक संतप्त परिवार को हर संभव सहयोग दिया जाए.

बिलाईगढ़ विकासखंड के ग्राम नगरदा के गल्ला व्यवसायी 32 वर्षीय धनेश्वर साहू 6 सितंबर की रात अपने परिवार के साथ दूसरी मंजिल में सो रहे थे. तभी अज्ञात आरोपियों ने उसकी 30 वर्षीय पत्नी गणेशी, 24 वर्षीय भाई रामेश्वर व 57 वर्षीय मां सूरज बाई की डंडे से मारकर हत्या कर दी. जबकि दो बच्चे परिधि 4 वर्ष तथा डेढ़ वर्षीया मिष्टी को छोड़ दिया.

बताया जा रहा है कि आरोपियों ने घर के बाहर से ऊपर चढ़कर पीछे दरवाजे से घुसकर इन चारों की हत्या की. घटना की सूचना तब मिली जब दुकान में काम करने वाले हेमाल विष्णु सतनामी, कार्तिकराम साहू, प्यारे कर्ष व रंजीत साहू रोज की तरह रविवार सुबह दुकान पहुंचे. दुकान बंद मिला और कमरे के अंदर दोनों बच्चे खड़े हुए थे. तब दुकान के प्रमुख मुंशी अमृतलाल साहू को बताया गया.

गांव वालों के कहना है कि धनेश्वर साहू काफी मिलनसार प्रवृत्ति के व्यक्ति थे तथा उनकी दुकान अच्छी-खासी चला करती थी. घटना की जानकारी मिलने पर आईजी, एसपी तथा थानेदार घटना स्थल पर पहुंचे. फोरेंसिक की टीम भी शाम 4 बजे तक पहुंच गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *