55 की प्रेमिका और 29 का प्रेमी

बिलासपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में 29 साल के प्रेमी और 55 साल की प्रेमिका ने पुलिस को परेशान कर दिया. बलिया, उत्तरप्रदेश से अपनी नवविवाहिता पत्नी को छोड़ कर एक युवक अपनी 55 साल की प्रेमिका के पास छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जा पहुंचा. घर वालों को बताया कि वह विदेश कमान-खाने जा रहा है.

अपनी 55 साल की प्रेमिका के साथ कुछ दिन गुजारने के बाद मामला तब खुला, जब महिला का पति ‘परदेस’ से घर लौटा. महिला के पति ने प्रेमी युवक के घरवालों को फोन किया और मामला जा पहुंचा पुलिस के पास.

मामला सामने आने पर पुलिस ने युवक को जमकर फटकार लगाई. वहीं महिला ने भी पति की इस गलती को क्षमा कर दिया और उसे साथ ले जाने के लिए राजी हो गई. तोरवा पुलिस के इस प्रयास की परिजन भी काफी तारीफ करते रहे.

तोरवा टीआई आशीष आरोरा ने बताया कि बिछुड़े हुए परिवार को मिलाना उनकी प्राथमिकता थी. इसलिए युवक को समझाइश दी गई. वह मान भी गया. इसलिए पुलिस कार्रवाई के बगैर ही उन्हें राजी खुशी से लौटा दिया गया.

बताया जाता है कि उत्तर प्रदेश के बलिया निवासी 29 वर्षीय नित्यानंद राय की शादी पास के ही गांव के शिव आनंद राय की बेटी स्नेहलता राय से बीते 27 अप्रैल को हुई थी. शादी के महज एक माह बाद उसने अपने परिजनों के साथ ही पत्नी को झांसा दिया कि वह नौकरी करने के लिए ओमान जा रहा है, लेकिन उसकी मासूम पत्नी के साथ ही परिजनों को क्या पता था कि वह विदेश जाने के बहाने छत्तीसगढ़ पहुंच जाएगा.

दरअसल, वह काम की तलाश में पहले भी छत्तीसगढ़ आया था और अधेड़ महिला के प्रेमजाल में फंस गया था. महिला यहां बिलासपुर के देवरीखुर्द में रह रही है. लिहाजा, युवक उसके पास बिलासपुर आ गया. इस बीच उसके परिजन व पत्नी यह समझते रहे कि वह विदेश में काम कर रहा है. उसकी करतूतों से पर्दा तब हटा, जब अधेड़ महिला गीता बाई का पति बटुकराम घर आया. वह बाहर नौकरी करता है और कभी-कभी घर आता है. घर में बेटी व बेटा भी हैं.

बटुकराम ने नित्यानंद राय के परिजनों का मोबाइल नंबर पता किया और उन्हें सूचना दे दी. स्नेहलता के पापा शिव आनंद राय अपने भाई के साथ ही सोनू के भाई शरमानंद राय को लेकर सोमवार को बिलासपुर पहुंचा. यहां उन्होंने तोरवा पुलिस से संपर्क कर मदद मांगी.

टीआई आशीष आरोरा ने उनकी कहानी सुनकर सोनू उर्फ नित्यानंद को थाने तलब किया. उसे देखकर परिजन हैरत में पड़ गए. काफी देर तक बहस व विवाद के बाद टीआई अरोरा ने उन्हें समझाया.

स्नेहलता भी अपने पति की गलतियों को नजरअंदाज कर क्षमा करने के लिए राजी हो गई. लिहाजा अरोरा ने युवक को उसके परिजनों से क्षमा मंगवाई और उसे अपनी पत्नी के साथ रहने की नसीहत दी. परिजनों के राजी खुशी के बाद मंगलवार दोपहर वे लोगो ट्रेन से बलिया के लिए रवाना हो गए.

सोनू उर्फ नित्यानंद राय से मिले दस्तावेज व टिकट से पता चला है कि वह 20 जून को ओमान जाने वाला था. उसके पास वीजा व टिकट है. इसी बीच उसके परिजनों को यहां अधेड़ महिला के साथ रहने की खबर मिली और परिजन यहां तक पहुंच गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *