छत्तीसगढ़ में प्रशिक्षण देंगे बिरजू महाराज

रायपुर | एजेंसी: पद्मविभूषण सम्मान से अलंकृत पं. बिरजू महाराज पांच दिनों तक प्रशिक्षण देने छत्तीसगढ़ पहुंच रहे हैं. वे छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में सिंधी पंचायत भवन लालबाग के वेसलियन स्कूल सभागार में 25 से 29 जून तक नृत्य साधकों को कत्थक नृत्य की बारीकियां सिखाएंगे.

छत्तीसगढ़ में हो रही इस कार्यशाला में प्रशिक्षण के लिए पंजीयन कराना होगा. चक्रधर कत्थक कल्याण केन्द्र राजनांदगांव के सचिव डॉ.कृष्ण कुमार सिन्हा व कला विधा से जुड़े राजेन्द्र डडसेना, तुषार सिन्हा ने बताया कि पं. बिरजू महाराज तीसरी बार छत्तीसगढ़ में कत्थक नृत्य का प्रशिक्षण देने आ रहे हैं. इसके लिए पंजीयन शुल्क दो हजार रुपये रखा गया है, जिसमें से प्रशिक्षणार्थियों के लिए पांच दिन तक ठहरने व भोजन की व्यवस्था की जाएगी.


देशभर से करीब 300 लोगों के प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है. अब तक कटक, कोलकाता, नागपुर, मुंबई, बेंगलुरू से 40 लोगों ने पंजीयन करवाया है. छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों से भी नृत्य में रुचि रखने वाले शामिल होंगे.

छत्तीसगढञ के राजनांदगांव में प्रशिक्षण के दौरान 75 वर्षीय पं.बिरजू महाराज को 75 किलो घुंघरुओं से तौला जाएगा और वे घुंघरू प्रशिक्षार्थियों को प्रतीक स्वरूप भेंट किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!