छत्तीसगढ़: बगावती भाजपाई निलंबित

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ भाजपा के 5 जिला स्तरीय नेताओं को उनके बगावती तेवर के कारण निलंबित कर दिया गया है. इन्होंने शनिवार को मुख्यमंत्री का पुतला कथित रूप से जलाया था. उल्लेखनीय है कि भाजपा विधायक युद्धवीर सिंह जूदेव को मंत्री न बनाये जाने के कारण चंद्रपुर के भाजपा नेताओं ने मुख्यमंत्री का पुतला कथित रूप से दहन किया था.

उधर, भाटापारा के विधायक शिवरतन शर्मा को मंत्री नहीं बनाये जाने से क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ता नाराज हैं. खबरों के अनुसार भाजपा कार्यकर्ता रविवार को नांदघाट लिमतरा में सुबह 8 बजे से 12 बजे तक चक्का जाम करने तथा पुतला दहन करने की घोषणा कर चुके थे.


इस बीच, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक तथा संगठन महामंत्री रामप्रताप सिंह ने कार्रवाई करते हुये भाजपा के 5 जिला स्तरीय नेताओं को निलंबित कर दिया है. निलंबित नेताओं से एक हफ्ते के भीतर जवाब मांगा गया है.

निलंबित होने वालों में भाजयुमो जिला अध्यक्ष- हेमंत कुमार, मनोज कुमार जपं सदस्य – डभरा, प्रेम टंडन , उपाध्यक्ष जपं -डभरा, भूपेंद् पटेल सदस्य -जपं डभरा और पीतांबर पटेल -सदस्य जिला पंचायत जांजगीर शामिल हैं.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में चंद्रपुर से विधायक और जशपुर राजघराने के युद्धवीर सिंह जूदेव को मंत्री न बनाए जाने के विरोध में उनके समर्थकों के आह्वान पर जिला मुख्यालय जशपुर शनिवार को पूरी तहर से बंद रहा. छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री रमन सिंह ने शुक्रवार को मंत्रिमंडल का विस्तार किया है. मंत्रिमंडल में जूदेव को शामिल न किए जाने पर जशपुर में भारी विरोध हो रहा है.

पार्टी कार्यकर्ताओं में असंतोष पर भाजपा के पदाधिकारियों ने चुप्पी साध रखी है. मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मुख्यमंत्री रमन सिंह ने खुद कहा था कि विधायकों एवं कार्यकर्ताओं में किसी भी तरह का कोई असंतोष नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!