कांग्रेस में स्वागत और नारेबाजी पर बैन

दंतेवाड़ा | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी ने अपने कार्यक्रमों में स्वागत कार्यक्रम, नेताओं को फूलमाला पहनाने, ढोल-नगाड़े बजाने और पटाखा छोड़ने पर रोक लगा दिया है. इस बारे में पार्टी ने बजाप्ता परिपत्र जारी कर जिला और ब्लाक कांग्रेस अध्यक्षों को निर्देश जारी किये हैं.

गौरतलब है कि बस्तर के जीरमघाटी में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर नक्सली हमले में कांग्रेस के 30 नेता और पुलिस के जवान मारे गये थे. एक वर्ग में कहा गया था कि आयोजनों में पटाखा छोड़े जाने के कारण ही नक्सलियों को इन नेताओं की उपस्थिति का पता चला था. इसके अलावा इन पटाखों के कारण नक्सल प्रभावित इलाकों में कई बार गलतफहमी की स्थिति भी बनी है.

अब प्रदेश कांग्रेस के महासचिव सुभाष शर्मा ने एक परिपत्र जारी कर पूरे छत्तीसगढ़ में होने वाले कांग्रेस पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में स्वागत कार्यक्रम, नेताओं को फूलमाला पहनाने, ढोल-नगाड़े बजाने और पटाखा छोड़ने पर रोक लगाने की बात कही है. इसके अलावा नक्सल हमले में शहीद नेताओं व कार्यकर्ताओं की फोटो पार्टी के दफ्तरों में लगाने के निर्देश भी इस परिपत्र में दिए गए हैं.

कांग्रेस पार्टी 4 जुलाई से कलश यात्रा निकाल रही है, जो पूरे राज्य के 90 विधानसभा में जाएगी. ऐसे में कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से सतर्कता बरतना चाहती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *