उल्टी-दस्त से पहाड़ी कोरवा की मौत

जशपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के जशपुर में उल्टी-दस्त से दो पहाड़ी कोरवाओं की मौत हो गई है. जाहिर है कि जशपुर जिले के बगीचा विकासखंड के सुलेसा गांव में स्वास्थ्य सुविधाओं की पहुंच नहीं हो पाई है अन्यथा साधारण से ओआरएस घोल तथा एंटीबायोटिक की मदद से राष्ट्रपति के इन दत्तक पुत्रों को बचाया जा सकता था.

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एम्स से लेकर निजी क्षेत्र के बड़े-बड़े अस्पताल खुल गये हैं परन्तु गांवों में साधारण से ओआरएस घोल के अभाव में मौत हो जाया करती है. जाहिर है कि देश के अन्य हिस्सों की तरह से छत्तीसगढ़ में भी स्वास्थ्य सेवायें बड़े शहरों तथा पैसे वालों तक ही सीमित होकर रह गई है.


मिली जानकारी के अनुसार पहली मौत 18 अगस्त तथा दूसरी मौत 23 अगस्त को हुई है. जिसकी जानकारी न तो स्वास्थ अमले को थी न प्रशासन को. दो पहाड़ी कोरवाओँ की मौत की खबर तब लगी जब बगीचा जनपद के उपाध्यक्ष मुकेश शर्मा वहां दौरे पर पहुंचे.

सूचना मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम चार किलोमीटर पैदल चलकर वहां पहुंची. जिसके बाद वहां दवा का वितरण किया गया तथा अब गांव में स्थिति नियंत्रण में है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!