मुन्नी बहन पर लीपापोती शुरु

रायपुर | संवाददाता: पत्नी की जगह दूसरे को परीक्षा में बैठाने के आरोपी छत्तीसगढ़ के शिक्षा मंत्री ने नया दांव फेंका है. स्कूली शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने कहा है कि उनकी पत्नी ने इस साल परीक्षा का फार्म ही नहीं भरा था. मंत्री ने कहा कि उनके खिलाफ राजनीतिक साजिश की गई है. दूसरी ओर जांच दल के अधिकारियों ने शिक्षा मंत्री की पत्नी से मुलाकात करने के बाद कहा है कि वे एक बेटी से मिलने आये थे और मिल कर जा रहे हैं.

गौरतलब है कि मंगलवार को बस्तर के लोहण्डीगुड़ा में एमए अंग्रेजी के प्रश्न पत्र की परीक्षा के समय यह गड़बड़ी सामने आई कि एक परीक्षार्थी शांति कश्यप की जगह कोई और परीक्षा दे रहा है. शांति कश्यप राज्य के स्कूली शिक्षा मंत्री केदार कश्यप की पत्नी हैं. शिक्षा मंत्री की पत्नी का यह कारनामा सामने आने के बाद केदार कश्यप ने कहा कि उन्हें पता ही नहीं है कि उनकी पत्नी परीक्षा दे रही हैं. अब शुक्रवार को केदार कश्यप के तेवर बदले हुये हैं.

केदार कश्यप ने कहा कि पिछले साल उनकी पत्नी ने परीक्षा दिया था. लेकिन इस साल उन्होंने फार्म ही नहीं भरा. हालांकि मंत्री के पास इस बात का जवाब नहीं था कि मंत्री की पत्नी ने फार्म नहीं भरा तो उनका प्रवेश पत्र कैसे जारी हुआ और लगातार 4 दिन तक शांति कश्यप के नाम से किसने परीक्षा दी?

इधर विश्वविद्यालय ने शुक्रवार को ही इस मामले में दो सदस्यों की जांच टीम बनाई थी. अब जांच टीम के सदस्य आरोपी शांति कश्यप के साथ ‘बाप-बेटी’ का रिश्ता बनाने में जुटे हुये हैं. जांच के लिये पहुंचे जांच टीम के एक सदस्य ने कहा कि वे एक बेटी के पास मिलने पहुंचे थे और बेटी से मिल कर आये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *