नक्सल प्रभावित इलाकों में हाई अलर्ट

जगदलपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के पहले चरण में सोमवार को होने वाले मतदान को लेकर सुरक्षा व्यवस्था बेहद चाक चौबंद रखी गई है. इस बीच मानपुर, औंधी, बीजापुर और गंगालूर नेशनल पार्क में नक्सलियों के होने की जानकारी मिली है. जानकारी मिलते ही क्षेत्र में तैनात सुरक्षा बलों को अलर्ट जारी कर दिया गया है.

सूत्रों कि मानें तो पुलिस हेडक्वार्टर को नक्सलियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिली है. इसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है. सुकमा के एरार्बेर, गढ़चिरौली, चिंतलनार में भी नक्सलियों की मौजूदगी की खबर है. हालांकि इस सम्बन्ध में पुलिस के आला अफसर कुछ भी कहने को तैयार नहीं हैं.

सूबे में पहले चरण के विधानसभा चुनाव में नक्सली हिंसा की आशंका को देखते हुए पुलिस ने नक्सल प्रभावित इलाकों में चौकसी बढ़ा दी है. आने-जाने वाले प्रत्येक लोगों की सघन जांच-पड़ताल की जा रही है. बस्तर के सीमावर्ती महाराष्ट्र, आंध. एवं उड़ीसा प्रदेशों की सीमाएं सील कर दी गयी हैं. हेलीकाप्टर से हवाई निगरानी की जा रही है.

नक्सली बहिष्कार के दृष्टिगत शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए नक्सली इलाके में लगभग एक लाख पुलिस व सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं, जो अत्याधुनिक हथियारों से लैस हैं. सभी सुरक्षाकर्मियों को अलग-अलग इलाके में रवाना किया गया है.

बस्तर आईजी अरुण देव ने बताया कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में केन्द्रीय सुरक्षा बल, सीमा सुरक्षा बल, इंडो तिब्बत सीमा पुलिस के अलावा बम निरोधी दस्ता और खोजी कुत्ते लगाए गए हैं. उन्होंने बताया कि शांतिपूर्ण और निर्भय मतदान के लिए सुरक्षा बलों द्वारा गश्त तेज कर दी गई है.

आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र तथा उड़ीसा सीमा को सील कर इन राज्यों के अधिकारियों से लगातार संपर्क किया जा रहा है. इसके साथ ही बस्तर के सभी थानों को हाई अलर्ट कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि नक्सली मतदाताओं को रोकने का प्रयास कर रहे हैं, परन्तु उनका प्रयास विफल किया जाएगा.

बस्तर कमिश्नर आरपी जैन ने बताया कि मतदान की तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में हेलीकाप्टर से मतदान दलों को रवाना किया गया. उन्होंने बताया कि संभाग के सभी जिलों के दूरस्थ नक्सली प्रभावित क्षत्रों में मतदान दलों को कड़ी सुरक्षा के बीच पैदल रवाना किया गया जा रहा है.

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के 8 जिलों में सोमवार को चुनाव होने वाले हैं. पहले चरण में विधानसभा की 18 सीटों पर मतदान होने हैं जिनमें से बस्तर क्षेत्र की 12 और राजनांदगांव जिले की 2 सीटें नक्सल प्रभावित हैं. इन क्षेत्रों में चुनाव के आगाज के बाद से ही नक्सलियों ने अपनी गतिविधियां तेज कर दी हैं.

गौरतलब है कि पहले ही छत्तीसगढ़ में अलर्ट घोषित कर दिया गया है. राज्य के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं. बहरहाल मतदान दलों को मतदान केन्द्रों तक पहुंचाया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *