छत्तीसगढ़ चुनाव: सरगुजा से सत्ता

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में अब तक के चुनाव में बस्तर को सत्ता की चाबी बताया जाता था लेकिन राजनीति के गलियारे में कहा जा रहा है कि इस बार सत्ता की लड़ाई को सरगुजा तय करेगा. सरगुजा संभाग में जो बयार चल रही है, उसमें तो यही लग रहा है कि अंबिकापुर में नकली लाल किले पर भाषण दे कर भी मोदी सरगुजा के मतदाताओं को अपने पक्ष में करने में असफल रहे हैं.

राज्य की पहली सीट यानी भरतपुर सोनहत में भाजपा ने अपने विधायक का टिकट काट कर जिला पंचायत अध्यक्ष चंपा देवी को मैदान में उतारा था. लेकिन कांग्रेस के गुलाब सिंह कमरो के मुकाबले उनकी जीत की उम्मीद कम ही है. इसी तरह अंबिकापुर में भाजपा के जिन अनुराग सिंह देव से कांग्रेस के टीएस सिंहदेव हारते-हारते बचे थे, एक बार फिर टीएस सिंमदेव भाजपा नेता अनुराग को पटखनी देंगे, ऐसा आंकलन है.


सीजी खबर ने सरगुजा इलाके की जिन 11 सीटों पर जीत-हार के अनुमान लगाये हैं, उसके अनुसार जिन प्रत्याशियों के जीतने की संभावना है, उनमें 8 सीटों पर कांग्रेस का पलड़ा भारी है. दो सीटों मनेंद्रगढ़ और प्रतापपुर में भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ा मुकाबला है. मतदान बाद किये सर्वे में मंत्री रामविचार नेताम के भी पिछड़ने की बात सामने आई है.

सीजी खबर मतदान बाद सर्वेक्षण: एक

कुल-11 |  भाजपा-1 |  कांग्रेस-8  |  कांटे की टक्कर-2

 भरतपुर सोनहत गुलाब सिंह कमरो कांग्रेस
 मनेंद्रगढ श्यामबिहारी जायसवाल/गुलाब सिंह कांग्रेस/भाजपा
 बैकुंठपुर वेदांती तिवारी कांग्रेस
 प्रेमनगर खेलसाय सिंह कांग्रेस
 भटगांव रजनी त्रिपाठी भाजपा
 प्रतापपुर रामसेवक पैंकरा/ प्रेमसाय कांग्रेस/भाजपा
 रामानुजगंज बृहस्पति सिंह कांग्रेस
 सामरी डॉ. प्रीतम राम कांग्रेस
 लूंड्रा चिंतामणी महाराज कांग्रेस
 अंबिकापुर टीएस सिंहदेव कांग्रेस
 सीतापुर अमरजीत भगत कांग्रेस

3 thoughts on “छत्तीसगढ़ चुनाव: सरगुजा से सत्ता

  • November 27, 2013 at 21:41
    Permalink

    Main factor which had worked in the present election of CG and MP is only one thing that is a common dialog of voters, ” Bahut ho gaya , badlav jaruri hai ” and voters have voted for change, due to which sitting MLA of both the parties are going to face bad result if they had not maintained the live content with their voters.

    Reply
  • November 28, 2013 at 16:33
    Permalink

    इस आकलन से मैं पूरी तरह सहमत नहीं हूँ।

    Reply
  • November 29, 2013 at 19:59
    Permalink

    मेरे आंकलन में यह सही नहीं है l

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!