हाथियों ने लड़की के कर डाले टुकड़े

रायगढ़ | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में हाथियों ने दिव्यांग लड़की के टुकड़े कर डाले. इतना ही नहीं हाथियों का दल लड़की के शव से फुटबाल की तरह घंटों खेलता रहा. अपनी दिव्यांग बेटी को हाथियों द्वारा बेरहमी से मारे जाने की घटना की चश्मदीद उसकी मां अभी तक सदमें में है.

मिली जानकारी के अनुसार तपकरा के झरन में रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात को 17 हाथियों का दल पहुंच गया. हाथियों ने गांव में पहुंचकर फिलोमिन तिग्गा के घर को घेर लिया. हाथियों को देख सब भाग खड़े हुये परन्तु उऩकी 21 वर्षीय दिव्यांग लड़की एलेन मंजुसा तिग्गा चलने-फिरने में असमर्थ होने के कारण भाग न सकी.


हाथियों ने बेबस एलेन मंजुसा को सूंड से पकड़कर बाहर निकाला तथा तब तक फुटबाल की तरह उछालते रहे जब तक उसके शरीर के टुकड़े-टुकड़े न हो गये. हाथियों ने एलेन मंजुसा को घर से निकालकर पास के खाली मैदान में ले जाकर पटक-पटकर मार डाला.

बेबस बेटी की मां अवंती भी बेबसी से अपने बेटी को हाथियों द्वारा मारे जाने को देखती रही. सोमवार सुबह 5 बजे के करीब हाथियों का दल जंगल की ओर चला गया.

अंबिकापुर: हाथियों ने युवक को कुचला

छत्तीसगढ़ के हत्यारे हाथी

छत्तीसगढ़ में गज आतंक, 3 मौतें

छत्तीसगढ़: हाथियों ने किसान को मारा

छत्तीसगढ़: हाथियों का कहर

हाथियों के जाने के बाद घरवालों ने बेटी के शव के टुकड़ों को समेटा पर लड़की का सिर न मिल सका. ग्रामीणों का कहना है कि हाथी लड़की का सिर लेकर चले गये हैं.

हाथियों द्वारा मंजुसा की बेरहमी से मार दिये जाने की घटना के बाद इलाकें में दहशत का माहौल है.

इससे पहले शनिवार-रविवार की दरम्यानी रात को इन्ही हाथियों ने जामबहार के निवासी 30 वर्षीय गजाधर राम तथा उससे एक दिन पहले ओडिशा के 35 वर्षीय रामलाल को मार डाला था.

One thought on “हाथियों ने लड़की के कर डाले टुकड़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!