छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बढ़त

ओपिनियन पोलरायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ खबर ने छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के पश्चात सभी 90 सीटों पर सर्वेक्षण किया है. इस सर्वे के प्रारंभिक नतीजे के बतौर हमने 11 सीटों के संभावित परिणाम प्रकाशित किये थे. फिर हमने पाठकों के सुझाव के बाद इस सर्वे के दायरे और नमूनों की संख्या को और बढ़ाया.

जाहिर तौर पर, इस साल विधानसभा के चुनाव में जिस तरह से भारी मतदान हुये हैं, उसमें पहले की तरह अनुमान लगा पाना सरल नहीं है. इस बात से इंकार करने की स्थिति में तो कोई भी नहीं है, कि सारे अनुमान चुनाव परिणाम में धाराशायी हो सकते हैं.


बस्तर में भाजपा को फिर से 11 सीटें मिलने के अनुमान भी हैं तो सरगुजा से सूपड़ा साफ होने के भी. भाजपा को 60 सीट मिलने के दावे करने वाले राजनीतिक पंडितों की संख्या कम नहीं है और कांग्रेस को भी 60 सीट मिलने की बात करने वाले छत्तीसगढ़ से लेकर दिल्ली तक में घूम रहे हैं. लेकिन दुर्भाग्य से छत्तीसगढ़ में केवल 90 सीटे हैं, ऐसे में इन दोनों दावों पर यकीन करना संभव नहीं है.

हमने इस सर्वे के लिये हरेक इलाके से विशेषज्ञ पत्रकारों, नौकरशाहों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और विषय विशेषज्ञों की राय ली. सीजी खबर के इस सर्वे में हम अपने सारे आग्रह और अनुभवों को किनारे रखते हुये सीधे-सीधे सर्वे के परिणाम प्रकाशित कर रहे हैं.

 

सीजी खबर मतदान बाद सर्वेक्षण

कुल-90 | भाजपा-32 | कांग्रेस-42 | कांटे की टक्कर-11 | अन्य – 5

ज़िला विधानसभासंभावित विजेतापार्टी
कोरिया भरतपुर सोनहत गुलाब सिंह कोमरोकांग्रेस
मनेंद्रगढ श्यामबिहारी जायसवाल भाजपा
बैकुंठपुर वेदांती तिवारी कांग्रेस
सूरजपुर प्रेमनगर खेलसाय सिंह कांग्रेस
भटगांव रजनी त्रिपाठी भाजपा
बलरामपुर प्रतापपुर डॉ.प्रेमसाय सिंहकांग्रेस
रामानुजगंज बृहस्पति सिंह कांग्रेस
सामरी सिद्धनाथ पैंकरा भाजपा
सरगुजा लूंड्रा विजयनाथ सिंह भाजपा
अंबिकापुर टीएस सिंहदेव कांग्रेस
सीतापुर अमरजीत भगत कांग्रेस
जशपुर जशपुर सरहुल भगत कांग्रेस
कुनकुरी रोहित साय भाजपा
पत्थलगांव रामपुकार सिंह कांग्रेस

2 thoughts on “छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बढ़त

  • December 7, 2013 at 16:10
    Permalink

    इस बार कौन बनेगा मुख्यमंत्री…

    बीजेपी तो जीतेगी तो कौन बनेगा…

    कांग्रेस तो जीतेगी तो कौन बनेगा…

    Reply
  • December 7, 2013 at 16:11
    Permalink

    और रही चुनाव जितने कि बात तो कुछ लोगो से बात कर किसी के जित और हार का फैसला नहीं किया जा सकता…

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!