छत्तीसगढ़ में फिल्म बनाउंगा: सुभाष घई

रायपुर | संवाददाता: फिल्म निर्माता सुभाष घई ने कहा कि मौका मिला तो छत्तीसगढ़ में फिल्म बनाउंगा. सुप्रसिद्ध फिल्म निर्माता और निदेशक सुभाष घई ने रायपुर साहित्य महोत्सव को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने छत्तीसगढ़ में साहित्य और संस्कृति के विकास की दिशा में इसे एक महत्वपूर्ण और सराहनीय आयोजन बताया है. उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और उनकी सरकार की प्रशंसा की है. सुभाष घई शनिवार शाम पुरखौती मुक्तांगन में आयोजित तीन दिवसीय साहित्य महोत्सव के दूसरे दिन मुक्तिबोध मंडप में आयोजित बातचीत के कार्यक्रम में श्रोताओं के सवालों का जवाब दे रहे थे.

सुभाष घई ने कहा कि मुझे खुशी है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने यहां पर इस प्रकार का आयोजन किया है. उन्होंने कहा कि मुझे लग रहा है कि यहां की सरकार ने राज्य में सिनेमा के विकास की संभावनाओं को भी पहचान लिया है. इस आयोजन में साहित्य और सिनेमा पर भी चर्चा परिचर्चाओं का दौर चला है. ऐसे साहित्यिक आयोजनों में सिनेमा, साहित्य और संस्कृति पर बातचीत होनी चाहिए.


सुभाष घई ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि फिल्म निर्माण में साहित्य और संस्कृति से प्रेरणा मिलनी चाहिए. यह निश्चित रूप से जिम्मेदारी का कार्य है और यह कार्य कहानीकार, फिल्म निर्माता तथा समाज तीनों मिलकर करें तभी संभव होगा.

सुभाष घई ने अपने जीवन के सपनों के बारे में पूछे जाने पर कहा कि देश के बच्चों को अच्छी शिक्षा, रचनात्मक और कल्पनाशीलता से परिपूर्ण शिक्षा मिले, यह मेरे जीवन का सपना है. उन्होंने कहा कि आज के युवाओं को साहित्य और संस्कृति की भी शिक्षा मिलनी चाहिए.

सुभाष घई ने कहा कि भारतीयता और सत्यम, शिवम-सुन्दरम की भावना मेरी फिल्मों की आत्मा में है. सुभाष घई से मंच पर सुश्री मनीषा लाखे ने बातचीत की. उनके अलावा श्रोताओं में से भी कई प्रबुद्धजनों ने और सिनेमा तथा रंगमंच से जुड़े लोगों ने भी अपनी जिज्ञासाएं उनके सामने रखी. एक प्रश्न के उत्तर में सुभाष घई ने कहा कि अगर अवसर मिला तो मैं छत्तीसगढ़ में भी फिल्म बनाना चाहूंगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!