पुलिस के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में पिटाई से युवक की मृत्यु के बाद मुलमुला थाने के पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है. इसकी जानकारी सोमवार को राजधानी रायपुर में गृह सचिव बीवीआर सुब्रमणियम तथा छत्तीसगढ़ के डीजीपी एएन उपाध्याय ने एक पत्रकार वार्ता में दी.

सुनील नोर्गे की मृत्यु का कारण जानने के लिये प्रथम श्रेणी न्यायिक दण्डाधिकारी पामगढ़ सतीश खाखा जांच करेंगे.


मुलमुला थाने के उप निरीक्षक जितेन्द्र सिंह राजपूत, आरक्षक सुनील ध्रुव व दिलहरण मिरी तथा नगर सैनिक राजेश कुमार के खिलाफ थाने में आईपीसी की धारा 302 एवं धारा 34 के तहत एफआईआऱ दर्ज कर लिया गया है. गौरतलब है कि इन पर आरोप है कि इन्होंने शनिवार को सुनील नोर्गे को थाने में इतना पीटा कि उसकी मृत्यु हो गई.

गृह सचिव ने बताया कि सुनील नोर्गे की पत्नी उषा नोर्गे को शासकीय नौकरी दी जा रही है तथा उसके दोनों बच्चों को छात्रावास में रखा जायेगा. इसी के साथ सुनील नोर्गे की शिकायत करने वाले बिजली विभाग के सभी कर्मचारियों को स्थानांतरित किया जा रहा है.

पत्रकार वार्ता में छत्तीसगढ़ के डीजीपी एएन उपाध्याय ने बताया कि शार्ट पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार मृत्यु की वजह हार्ट फेलियर है. उन्होंने बताया कि आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

मृतक के परिजनों को तत्काल 25 हजार रुपये की सहायता दी गई है. मुख्यमंत्री ने 1 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की थी अब और 5 लाख रुपये दिये जा रहे हैं.

उधर, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा है कि यदि सरकार थाने में सतनामी की मौत पर ठोस कार्यवाही नहीं करती है तो विरोध प्रदर्शन किया जायेगा. उन्होंने कहा- थाने में जिसकी हत्या की गयी वो सतनामी था और ये सभी जानते हैं वहां दो वर्गों का विवाद आज भी लोग नहीं भूले हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!