छत्तीसगढ़ सौर ऊर्जा में सर्वप्रथम

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ को सौर ऊर्जा के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिये मोदी ने पुरस्कार दिया. छत्तीसगढ़ ने सौर ऊर्जा के क्षेत्र में देश में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है. इसके लिये छत्तीसगढ़ को नई दिल्ली में एक समारोह में प्रधानमंत्री मोदी ने पुरस्कार प्रदान किया है. गौरतलब है, पूरी दुनिया में सौर ऊर्जा को वैकल्पिक ऊर्जा को स्त्रोत के रूप में बढ़ावा दिया जा रहा है. इससे जहां कम खर्च में ऊर्जा मिलती है वहीं, प्रदूषण शून्य होता है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार सवेरे नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित समारोह में छत्तीसगढ़ को सौर ऊर्जा के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्य के रूप में राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया. सौर ऊर्जा के क्षेत्र में कार्यरत निवेशकों के विश्वस्तरीय सम्मेलन में प्रधानमंत्री के हाथों छत्तीसगढ़ सरकार के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह ने यह पुरस्कार ग्रहण किया.

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ सरकार को यह राष्ट्रीय एवार्ड 13वें वित्त आयोग के निर्धारित मानकों के अनुसार दिया गया है. कार्यक्रम में केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल और केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण सहित सौर ऊर्जा के क्षेत्र में काम कर रहे देश-विदेश के अनेक विशेषज्ञ और उद्यमी उपस्थित थे.

अमन कुमार सिंह ने बताया कि इन योजनाओं के तहत प्रदेश में रूफ-टॉप ऑफ ग्रिड सोलर एनर्जी के 45 मेगावाट के संयंत्र लगाए गए हैं जिसे देश में सर्वश्रेष्ठ माना गया है. उन्होंने यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ के लगभग 600 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, 100 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों, 350 पुलिस थाना भवनों और लगभग 1800 आदिवासी छात्रावासों तथा प्रदेश के सभी 27 जिलों के कलेक्टोरेट में वैकल्पिक बिजली की सुविधा के रूप में सौर ऊर्जा संयंत्र लगाए गए हैं.

इसके अलावा प्रदेश के दूर दराज इलाकों में स्थित लगभग 1700 गांवों को भी सौर ऊर्जा से विद्युतीकृत किया गया है. ऐसे गांवों में पेयजल के लिए 3000 और सिंचाई के लिए 1500 सौर ऊर्जा आधारित पम्प लगाए गए हैं.

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए छत्तीसगढ़ का चयन किए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि गैर परम्परागत ऊर्जा के क्षेत्र में छत्तीसगढ़ में हो रहे श्रेष्ठ कार्यों का राष्ट्रीय स्तर पर मूल्यांकन हुआ है. प्रधानमंत्री के हाथों छत्तीसगढ़ को पुरस्कार मिलना प्रदेशवासियों के लिए गर्व की बात है.

डॉ. सिंह ने इस राष्ट्रीय एवार्ड के लिए प्रधानमंत्री और केन्द्र सरकार के प्रति आभार व्यक्त किया है और राज्य की जनता सहित ऊर्जा विभाग तथा छत्तीसगढ़ सौर ऊर्जा विकास अभिकरण, क्रेडा के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी है. नरेन्द्र मोदी ने राज्य को मिले इस पुरस्कार के लिए मुख्यमंत्री और ऊर्जा विभाग के प्रभारी डॉ. रमन सिंह तथा प्रदेश सरकार के ऊर्जा विभाग और क्रेडा को बधाई दी.

प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह ने इस अवसर पर बताया कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुरूप कई योजनाएं सफलता पूर्वक संचालित की जा रही हैं. क्रेडा के माध्यम से ऊर्जा के वैकल्पिक स्त्रोतों को बढ़ावा दिया जा रहा है. इन्हीं कार्यक्रमों के तहत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए राज्य को यह पुरस्कार प्रदान किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *