छत्तीसगढ़: हादसों का शुक्रवार

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में शुक्रवार को दो सड़क दुर्घटनाओँ में 7 लोगों की मौत हो गई. पहली सड़क दुर्घटना शुक्रवार सुबह सरगुजा के उदयपुर में हुई जिसमें दूल्हा-दुल्हन सहित 4 लोगों की मौत हो गई. दूसरी सड़क दुर्घटना बलौदाबाजार के पास हुई जिसमें 3 यात्रियों की मौत हो गई. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह तथा विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल ने इऩ आकस्मिक मौत पर गहरा दुःख व्यक्त किया है.

पहला मामला शुक्रवार सुबह सरगुजा के उदयपुर का है. मिली जानकारी के अनुसार उदयपुर के ग्राम रिखी में शुक्रवार सुबह यह हादसा हुआ है.

मृतक दूल्हे का नाम वीरसिंह तथा दुल्हन का नाम रीता है. साथ में वाहन चालक अमरनाथ तथा बाराती दुर्गाप्रसाद की भी मौत हो गई है.

बताया जा रहा है कि बारात स्कॉर्पियो से लौट रही थी. वाहन चालक शराब के नशे में धुत्त था. नशे में गाड़ी चलाने के कारण स्कॉर्पियो पलट गई जिससे दूल्हा-दुल्हन समेत चार की मौत हो गई तथा 9 बाराती घायल हो गये हैं. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

छत्तीसगढ़ में आमतौर पर देखा गया है कि शादी के समारोह में लोग जमकर शराब पीते हैं. ऐसा ही इस मामले में हुआ. जहां स्कॉर्पियो चालक ने भी शराब पी रखी थी. नतीजा शादी की खुशियां मातम में बदल गई.

दूसरा मामला बलौदाबाजार जिला मुख्यालय ग्राम रिसदा निवासी एक ही परिवार के तीन सदस्यों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई. मिली जानकारी के अनुसार शाम पांच बजे एक तेज रफ्तार बस ने एक हाइवा को टक्कर मार दी.

न्यू इंडिया बस सर्विस की बस क्रमांक सीजी 04 E, 7147 बलौदाबाजार आ रही थी जिसमें 50 यात्री सवार थे. यह बस हाइवा क्रमांक एचवी 7258 से ग्राम सकरी के चौराहे पर भिड़ गई.

यात्री बस तथा हाइवा की आपसी टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बस के ड्राइवर सीट के पास बैठे एक ही परिवार के 3 लोग झटके के साथ बाहर गिर गये जिनमें से मां-बेटी हाइवा के पहियों के नीचे जा गिरे जिससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि शिक्षक पिता ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.

पहियों के नीचे पीस चुके दोनों शवों को निकालने के लिए क्रेन की सहायता ली गई. वहीं 12 साल के मासूम विकास वर्मा का हाथ कंधे से ही अलग हो गया जिसे गंभीर अवस्था में रायपुर रेफर किया गया.

दुर्घटना में पूर्णिमा (40 वर्ष) अमलीडीह, संतोष कुमार 31, दामिनी 45 पलारी, गरीबा ध्रुव 52 बेमेतरा, राजेश कुमार कटगी 23 सामान्य रूप से घायल हुए हैं. वहीं रियाज बलौदाबाजार व विकास वर्मा 12 वर्ष की हालत गंभीर है.

सरकारी आकड़ों के अनुसार साल 2014 में छत्तीसगढ़ में 12,140 सड़क दुर्घटनायें हुई थी जिसमें 3985 लोगों की मौत हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *